January 25, 2021

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

एयरपोर्ट के निर्माण में युद्ध स्तर पर हो काम, वन विभाग की स्वीकृति के बाद ही पेड़ों की हो कटाई- उपायुक्त

बोकारो:- बोकारो के उपायुक्त राजेश सिंह की अध्यक्षता में 05 जनवरी को बोकारो हवाई अड्डा के विस्तारीकरण से संबंधित समीक्षा बैठक आयोजित की गई। बैठक के दौरान बोकारो हवाई अड्डा के विस्तारीकरण से संबंधित प्रगति रिपोर्ट के बारे में बीएसएल प्रबंधन के जीएम (एचआरडी) श्री अनिल कुमार ने बताया कि हवाई अड्डे के निर्माण में बीएसएल प्रबंधन युद्ध स्तर पर कार्य कर रहा है। चारदीवारी के निर्माण के साथ-साथ हवाई अड्डे में रनवे तथा जमीन समतलीकरण का कार्य तेजी से किया जा रहा है। एयरपोर्ट अथॉरिटी के नियमों के अनुरूप बोकारो एयरपोर्ट का निर्माण कार्य किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि एयरपोर्ट परिसर तथा एयरपोर्ट परिसर के बाहर पेड़ों की कटाई की जा रही है ताकि निर्माण कार्य तेजी से किया जा सके।

7 इंच से कम व्यास वाले पेड़ों को कहीं अन्य स्थानों पर पुनः रिप्लान्ट करने के साथ केवल 7 इंच से अधिक व्यास वाले पेड़ों को ही काटने का आदेश है।
उपायुक्त राजेश सिंह ने कहा कि एयरपोर्ट के निर्माण के दौरान जो भी पेड़ की कटाई होगी उसमें वन विभाग की स्वीकृति जरूरी है। पेड़ों की कटाई की स्वीकृति मिलने के बाद भी 7 इंच से कम व्यास वाले पेड़ों( बपतबनसंत) को कहीं अन्य स्थानों पर पुनः रिप्लान्ट करने के साथ केवल 7 इंच से अधिक व्यास वाले पेड़ों( बपतबनसंत) को ही काटने का आदेश है। वन प्रमंडल पदाधिकारी श्री अंकित कुमार (आईएसएफ) ने कहा कि बोकारो हवाई अड्डा के निर्माण हेतु बीएसएल प्रबंधन द्वारा एयरपोर्ट अथॉरिटी के तर्ज पर जितने भी पेड़ों की कटाई की स्वीकृति मांगी गई है। वन प्रमंडल तथा वन विभाग द्वारा जांच के बाद उन पेड़ों की कटाई हेतु स्वीकृति प्रदान की गई है। एयरपोर्ट के निर्माण के दौरान पर्यावरण तथा एयरपोर्ट अथॉरिटी के मापदंडों को देखते हुए समय-समय पर बीएसएल प्रबंधन द्वारा दिए गए आवेदनों पर लगातार विचार विमर्श करने के बाद ही स्वीकृति प्रदान की जा है।
उपायुक्त राजेश सिंह ने कहा कि एयरपोर्ट के निर्माण कार्य काफी धीमी गति से चल रहा है। अतः युद्ध स्तर पर जिला प्रशासन तथा बीएसएल प्रबंधन को मिलकर इस दिशा में कार्य करने की जरूरत है ताकि बोकारो वासियों को जल्द से जल्द बोकारो एयरपोर्ट के माध्यम से घरेलू उड़ान की सुविधा प्रदान की जा सके। एयरपोर्ट निर्माण कार्य में किसी भी समस्या का समाधान बीएसएल प्रबंधन के अधिकारी तथा जिला स्तर के पदाधिकारी आपसी समन्वय स्थापित कर जल्द से जल्द इसका निष्पादन करते हुए निर्माण कार्य दिशा में तेजी लाएं। उन्होंने कहा कि एयरपोर्ट अति संवेदनशील क्षेत्र के अंतर्गत आता है। अतः एयरपोर्ट परिसर में किसी भी व्यक्ति का अनाधिकृत रूप से प्रवेश निषेध होना चाहिए। दृष्टिकोण से एयरपोर्ट की सुरक्षा व्यवस्था बीएसएल प्रबंधन के जिम्मे में है अतः बीएसएल प्रबंधन निर्माण कार्य के दौरान सुरक्षाकर्मियों की तैनाती के साथ साथ चारदीवारी का निर्माण शीघ्र से शीघ्र कराएं ताकि आम लोग एयरपोर्ट परिसर में प्रवेश ना कर सके। उन्होंने पुलिस उपाधीक्षक श्री ज्ञान रंजन को आदेश दिया कि एयरपोर्ट परिसर में किसी प्रकार के अनाधिकृत रूप से प्रवेश पर रोक हेतु स्थानीय थाना के माध्यम से रोस्टर बनाते हुए पेट्रोलिंग की व्यवस्था सुनिश्चित करें। उपायुक्त ने बोकारो हवाई अड्डा की सुरक्षा प्रभारी श्रीमती प्रियंका सिंह को निर्देश देते हुए कहा कि एयरपोर्ट परिसर के आसपास अगर किसी प्रकार का अतिक्रमण है तो उसकी सूचना अनुमंडल पदाधिकारी चास श्री शशि प्रकाश सिंह को उपलब्ध कराएं ताकि एयरपोर्ट की सुरक्षा हेतु अतिक्रमण हटाया जा सके। एयरपोर्ट के अंदर क्लियर वीजन हेतु झाड़ियों की कटाई के साथ साथ जमीन के समतलीकरण का कार्य तेजी से किया जाए।
समीक्षा बैठक के दौरान अनुमंडल पदाधिकारी चास शशि प्रकाश सिंह, पुलिस उपाधीक्षक ज्ञान रंजन समेत जिला प्रशासन एवं बीएसएल प्रबंधन के अधिकारीगण उपस्थित थे।

Recent Posts

%d bloggers like this: