अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

महिलायें देंगी अत्याचारियों का शह देने वालों को शिकस्त: प्रियंका

लखनऊ:- कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने उत्तर प्रदेश की योगी सरकार को ललकारते हुये कहा कि लोकतंत्र का चीरहरण करने वाले कान खोलकर सुन लें कि महिलाएँ प्रधान, ब्लॉक प्रमुख, विधायक, सांसद, मुख्यमंत्री, प्रधानमंत्री बनेंगी और उन पर अत्याचार करने वालों को शह देने वाली सरकार को शिकस्त देंगी। यूपी के तीन दिवसीय दौरे के दूसरे दिन शनिवार को श्रीमती वाड्रा लखनऊ से सड़क मार्ग से लखीमपुर खीरी में पंसगवा ब्लाक के सेमरा घाट पहुंची और ब्लाक प्रमुख चुनाव में नामांकन के दौरान हिंसा और उत्पीड़न की शिकार महिलाओं से मिली। इस मौके पर पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू,राष्ट्रीय सचिव धीरज गुर्जर, आराधना मिश्र मोना, दीपक सिंह समेत अन्य नेता मौजूद थे। कांग्रेस महासचिव ने कहा कि रीतू सिंह और अनिता यादव पर भाजपा के गुंडो ने हमला किया। उन्होने कहा “लोकतंत्र का चीरहरण करने वाले भाजपा के गुंडे कान खोलकर सुन लें, महिलाएँ प्रधान, ब्लॉक प्रमुख, विधायक, सांसद, मुख्यमंत्री, प्रधानमंत्री बनेंगी और उनपर अत्याचार करने वालों को शह देने वाली सरकार को शिकस्त देंगी। ” उन्होने कहा “ पंचायत चुनाव में भाजपा द्वारा की गयी हिंसा की शिकार अपनी सभी बहनों, नागरिकों के न्याय के लिए मैं राज्य चुनाव आयोग को पत्र लिखूँगी।” गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश में अगले साल होेने वाले विधानसभा चुनाव की तैयारियों की समीक्षा और कार्यकर्ताओं में उत्साह पैदा करने के इरादे से श्रीमती वाड्रा शुक्रवार को तीन दिवसीय दौरे पर लखनऊ पहुंची थी। हवाई अड्डे से वह हजरतगंज क्षेत्र में स्थित गांधी प्रतिमा स्थल पहुंची और पंचायत चुनाव में धांधली और खराब कानून व्यवस्था का हवाला देते हुये मौन धरना दिया। हजरतगंज पुलिस ने कोविड नियमों का हवाला देते हुये उनसे धरना खत्म करने का अनुरोध किया जिस पर उन्होने कागज पर लिख कर दिया कि पंचायत चुनाव के समय भी काेरोना था। पुलिस ने इस सिलसिले में श्रीमती वाड्रा समेत पांच नेताओं के खिलाफ हजरतगंज कोतवाली में एफआईआर दर्ज करायी है। सचिवालय चौकी इंचार्ज द्वारा दर्ज करायी गयी एफआईआर में महामारी एक्ट के उल्लघंन का आरोप लगाया गया है।

%d bloggers like this: