February 26, 2021

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

बिना हेलमेट,शराब पीकर वाहन चलाने व तय गति सीमा से नहीं चलने वालों पर गिरेगी गाज

यत्र-तत्र बस,मालवाहक खड़े करने पर कसी जाएगी नकेल

हज़ारीबाग:- सड़क सुरक्षा की समीक्षात्मक बैठक उपायुक्त आदित्य कुमार आनंद की अध्यक्षता में शुक्रवार को उपायुक्त वेश्म में संपन्न हुई। बैठक में उपायुक्त ने सड़क सुरक्षा में कार्यरत टीम से अब तक कितने दुर्घटना प्रभावित क्षेत्रों को चिन्हित किया गया है तथा माह दिसंबर में कितने दुर्घटना हुई है इसकी जानकारी ली। इस संबंध में जिला परिवहन पदाधिकारी ने बताया कि माह दिसंबर में 33 दुर्घटना जिले भर में हुई है जिसमें 22 मामलों पर मृत्यु की पुष्टि हुई है,उन्होंने बताया कि ज्यादातर मामले चौपारण,बरकट्ठा,बरही तथा इचाक आदि क्षेत्रों में हुए हैं तथा हेलमेट का प्रयोग न करना व तय गति सीमा से ज्यादा गति से वाहन चलाना इसका प्रमुख कारण है। उन्होंने उपायुक्त को बताया कि इचाक मोड़,बरही चौक आदि जगहों पर ज्यादा भीड़ -भाड़ होने की स्थिति में दुर्घटना की संभावना बनी रहती है। मौके पर उपायुक्त ने इन जगहों पर हो रहे अत्यधिक दुर्घटना पर चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि संबंधित क्षेत्रों के थाना व जिला परिवहन पदाधिकारी इन जगहों पर विशेष जांच अभियान चलाएंद्य उन्होने जिले में बढ़ती सड़क दुर्घटना तथा दुर्घटना में हो रहे मृत्यु पर अंकुश लगाने की जरूरत पर बल दिया। दुर्घटना के प्रमुख कारणों की समीक्षा करते हुए ज्यादा भीड़भाड़ वाले क्षेत्रों में बसों के ठहराव को लेकर सख्त निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि ईचाक व बरही में बसों के ठहराव निर्धारित बस स्टॉप पर ही हो जगह जहां बस स्टॉप नहीं है वहां बस शेड का निर्माण करें। यत्र -तत्र बस,वाहन ना खड़ा होद्य उन्होंने कहा कि बसों के इधर-उधर ठहराव पर जुर्माना वसूलना दुर्घटना के रोकथाम पर कारगर साबित नहीं हो पाने की स्थिति पर लाइसेंस रद्द करने की भी बात कही। सड़कों पर चलने वाले बड़े वाहनों यथा बस,हाईवा आदि मालवाहकों पर सघन लाइसेंस जांच करने का निर्देश दियाद्य साथ ही सड़कों पर बिना हेलमेट,शराब पीकर वाहन चलाना तथा ओवरस्पीडिंग पर भी सख्ती बरतने का निर्देश दिया। उपायुक्त ने कहा कि तमाम जागरूकता कार्यक्रमों के चलाए जाने के बावजूद आमजनो का हेलमेट का प्रयोग ना करना दुखद है इसको लेकर राजमार्गों पर बिना हेलमेट प्रवेश पर रोक सहित टोल गेट पर लगे सीसीटीवी के माध्यम से सख्त निगरानी रखने की बात कहीद्य समीक्षा के दौरान विगत 1 साल में हुए कुल 276 दुर्घटना में 217 लोगों की मृत्यु पर जानकारी मांगी साथ ही इस प्रकार के दुर्घटना के रोकथाम के लिए कड़े कदम उठाने के निर्देश दिए। साथ ही हिट एंड रन मामले पर अब तक एक भी व्यक्ति को मुआवजा का लाभ नहीं दिया जाना अत्यंत निराशाजनक बताया तथा इस संबंध में उपस्थित नेशनल इंश्योरेंस के प्रतिनिधि से नाराजगी जाहिर करते हुए इसकी जानकारी मांगी। उन्होंने आगामी लगने वाले लोक अदालत झालसा( झारखण्ड राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण) के शिविर में इन सभी मुआवजा के मामलों को पटल पर रखने की बात कही।
मौके पर डीडीसी अभय कुमार सिन्हा,जिला परिवहन पदाधिकारी बिजय कुमार,सड़क सुरक्षा टीम व अन्य मौजूद थे।

Recent Posts

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
%d bloggers like this: