May 16, 2021

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

जब चिरायु अस्पताल बन गया जंग का मैदान, डॉक्टर और परिजनों के बीच जमकर चले लात-घूंसे

इंदौर:- इंदौर के चिरायु अस्पताल में भर्ती परिजनों ने हॉस्पिटल के डॉक्टरों पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए खूब हंगामा किया। परिजनों ने कहा कि मरीज का बिल बढ़ा-चढ़ा कर दिया गया है जिसके बाद उन्होंने हंगामा शुरु कर दिया। मरीज के परिजन और डॉक्टर्स के साथ मारपीट की जानकरी पुलिस को मिली और देखते ही देखते अस्पताल परिसर पुलिस और परिजनों से भर गया। आरोप है कि परिवार थाने पहुंचा तो उनकी सुनवाई भी ठीक से नहीं की जा रही थी, उल्टा पुलिस स्टाफ ही महिलाओं पर समझौते का दबाव बनाने लगा।
पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार रुचिका वर्मा के परिजन को कोविड-19 के चलते हैं चिरायु हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया। उनके मुताबिक पिछले 4 दिनों से वह स्वयं और अन्य परिजन हॉस्पिटल में भर्ती मरीज के बारे में अपडेट जानकारी लेने जाते हैं तो हॉस्पिटल के डॉक्टरों द्वारा कोई संतोषपूर्ण जानकारी नहीं दी जा रही है। रविवार को परिजन हॉस्पिटल पहुंचे और जानकारी मांगी तो डॉक्टरों ने कुछ भी बताने से इंकार कर दिया और धक्का देकर हॉस्पिटल से बाहर निकाल दिया।
जब परिजनों ने इसका विरोध किया तो डॉक्टर और हॉस्पिटल के कर्मचारियों ने मिलकर उनके साथ जमकर मारपीट की जिसमें उनके परिवार के तीन लोगों को चोटे आई। अंशिका वर्मा का कहना है कि हॉस्पिटल वाले मरीज को कौन सी दवा और ऑक्सीजन लेवल आदि के बारे में पूछने पर कोई जवाब नहीं दे रहे हैं। वही बिल भी ज्यादा ले रहे थे, जिनको भगवान का रूप समझा जाता है वह मारपिट पर उतारू थे और महिलाएं बचाओ-बचाओ चिल्ला रही थी। इसकी शिकायत हॉस्पिटल में भर्ती मरीज के अन्य परिजनों ने भी मीडिया से चर्चा करते हुए कही है। परिजनों का आरोप है कि अस्पताल के डॉक्टर और स्टाफ ने गुंडागर्दी करते हुए मारपीट की है इस मामले में मौके पर पहुंची पुलिस ने गुंडागर्दी करने वाले डॉक्टरों पर किसी भी प्रकार की कोई कार्रवाई नहीं की है। इसको लेकर लोगों में आक्रोश व्याप्त है। वही महिलाओं से थाने स्टाफ के वीडियो बनाने शुरू किए और मीडिया पहुंचा तो कहीं जाकर केस दर्ज किया गया। fir की कॉपी भी उनके हाथ से छीन ली गई। उल्लेखनीय है कि पिछले दिनों एमटीए एच हॉस्पिटल में भी मारपीट की घटना हो चुकी है। इन दिनों कोविड-19 हॉस्पिटल में भर्ती मरीज के परिजनों को डॉक्टरों द्वारा अपडेट जानकारी नहीं दी जा रही है। जिसके कारण या विवाद की स्थिति लगातार हो रही है इस मामले में स्थानीय प्रशासन पूरी तरह से पंगु बना हुआ है।

Recent Posts

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
%d bloggers like this: