अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

क्या खाएं, क्या पकाएं और घर का बजट कैसे चलाएं,सभी इस सवाल से जूझ रहे हैं : आभा सिन्हा

रॉंची:- झारखण्ड प्रदेश कांग्रेस कमिटी की प्रवक्ता आभा सिन्हा ने कहा है कि मोदी और मंहगाई दोनों देश को मार रही है। डीजल, पेट्रोल और गैस ककी बढ़ी कीमतें बजट बिगाड़ गई और बाकी कुछ बचा था, तो मंहगाई मार गयी। अच्छे दिन तो आए नहीं, मंहगे दिनों ने देश की जनता का बजट जरूर बिगाड़ दिया।
श्रीमती सिन्हा ने कहा कि क्या खाएं, क्या पकाएं और घर का बजट कैसे चलाएं? आज ये सीधे तीन सवाल है। मुॅंह बाए देश की जनता के सामने खड़े हैं। कंज्यूमर प्राइस इनफ्लेशन 6.26 या लगभग 6.3 प्रतिशत तक पहुंच गयी है। शहरों में मंहगाई और ज्यादा है। चाहे वो खाने-पीने का सामान हो, चाहे वो दाल-सब्जी, फल हो, चाहे वो यातायात के साधन हों, चाहे वो पेट्रोल-डीजल हो और रसोई गैस हो और अब सीएनजी और पीएनजी गैस के दाम भी सरकार ने इसी हफ्ते और बढ़ा दिए हैं।
उन्होंने कहा कि सच्चाई यह भी है कि एक तरफ मंहगाई की मार और दूसरी तरफ बेरोजगारी की धार। पहली बार इस देश में वर्षों के बाद बेरोजगारी की दर 8 प्रतिशत को पार कर गई।
उन्होंने कहा कि इस महंगाई के लिए अगर कोई जिम्मेदार है, तो वो मोदी सरकार जिम्मेदार है और ये महंगाई मांग बढ़ने की वजह से नहीं हुई है। ये महंगाई लोगों के हाथ में ज्यादा पैसा है, इसलिए भी नहीं हुई, ये महंगाई सरकार की गलत और जनविरोधी नीतियों का परिणाम है। वो चाहे पेट्रोल और डीजल की बढ़ी हुई कीमतें है। मोदी जी ने टूथ पेस्ट से लेकर, बिस्कुट, साबुन, तेल से लेकर कोई चीज छोड़ी ही नहीं, जिसपर अनाप-शनाप टैक्स नहीं लगा।
उन्होंने मोदी सरकार से मांग की है कि पेट्रोल, डीजल, रसोई गैस के दाम फौरन कम किए जाएं और सरकार सेस लगाकर जो लाखों करोड़ का मुनाफा कमा रही है, उसमें कटौती करे और जनता को राहत पहुंचाए।

%d bloggers like this: