अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

अनियमितता की एसीबी जांच का स्वागत, अच्छे दिन अब महंगे साबित हो रहे-कांग्रेस

रांची:- झारखंड प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता आलोक कुमार दूबे, लाल किशोरनाथ शाहदेव और डॉ0 राजेश गुप्ता छोटू ने कहा झारखंड विधानसभा के नये भवन और हाईकोर्ट निर्माण में वित्तीय अनियमितता मामले की सीबीआई जांच के आदेश का स्वागत किया है। वहीं पार्टी के प्रदेश प्रवक्ताओं ने घरेलू रसोई गैस सिलेंडर की कीमत में एक बार 25 रुपये की बढ़ोत्तरी के खिलाफ अब जनता से भी सड़क पर उतर कर कांग्रेस पार्टी का साथ देने की अपील की गयी है। भाजपा के अच्छे दिन अब महंगे दिन साबित हो रहे है। गरीब जनता एलपीजी खरीदते समय महंगाई के आंसू हो रही है। देश की जनता कह रही है कि ऐसे अच्छे दिन वापस ले लीजिये और लोगों के पुराने दिन ही लौटा दें।
प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता आलोक कुमार दूबे ने कहा कि पूर्ववर्ती रघुवर दास के शासनकान में आखिर किस कारण से 250 करोड़ रुपये का प्राक्कलन बढ़कर 700 करोड़ रुपये का हो जाता है और सभी बड़े काम एक ही व्यक्ति को कैसे मिल जाता था। उन्होंने कहा कि जिस कंपनी द्वारा विधानसभा के नये भवन का निर्माण कराया गया, उसी कंपनी को हाईकोर्ट निर्माण की जिम्मेवारी सौंपी। लेकिन आनन-फानन में आधे-अधूरे बने झारखंड विधानसभा भवन का उद्घाटन विधानसभा चुनाव 2019 के ठीक पहले प्रधानमंत्री के हाथों करा दिया जाता है, लेकिन कुछ ही महीनों में इसका हश्र भी लोगों ने देखा है। विधानसभा के नये भवन में भीषण आगजनी की घटना होती है, जबकि कई बार नये भवन की सीलिंग और गुंबद के हिस्से को आंधी में उड़ते और टूटते हुए भी लोगों ने देखा है।
प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता लाल किशोरनाथ शाहदेव ने कहा कि भाजपा के राष्ट्रीय महामंत्री इन दिनों झारखंड आकर ड्रामेबाजी कर रहे है और कांग्रेस को कोसने को काम कर रहे हैं, लेकिन वे यह नहीं बता रहे हैं कि महंगाई इतनी क्यों बढ़ रही है। रसोई गैस सिलेंडर में 25 रुपये की बढ़ोत्तरी कम नहीं होती है,यूपीए शासनकाल में 350-400 रुपये में मिलने वाला सिलेंडर आज 900 रुपये तक जा पहुंचा है। नवंबर 2020 में गैस सिलेंडर 594 रुपये था और 6 बढ़ोत्तियों में 240 रुपये दाम बढ़ाया गया है और आज यह बढ़ते-बढ़ते 900 रुपये के करीब आ पहुंचा है।
प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता डॉ0 राजेश गुप्ता छोटॅ ने कहा कि आज देश की जनता को अच्छे दिन की कीमत वसूलनी पड़ रही है, वहीं मोदी सरकार अपने पूंजीपति मित्रों को फायदा पहुंचाने के लिए खजाना भरने में लगी है। फ्लूल टैक्स से एक वर्ष के दौरान केंद्र सरकार 4 लाख करोड़ रुपये का टैक्स वसूला, महंगाई भत्ता फ्रीज करके 37,500 रुपया बचाया और पीएम केयर फंड से 10 हजार करोड़ रुपये से ज्यादा कमाया।

%d bloggers like this: