April 17, 2021

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

विष्णु सरवनन तोक्यो ओलंपिक के लिए क्वालीफाई करने वाले दूसरे सेलर बने

नयी दिल्ली:- भारत पहली बार ओलंपिक में सेलिंग की एक से अधिक स्पर्धा में हिस्सा लेगा क्योंकि विष्णु सरवनन ने गुरुवार को ओमान में एशियाई क्वालीफायर में दूसरे स्थान पर रहते हुए तोक्यो खेलों की लेजर एसटीडी क्लास स्पर्धा के लिए क्वालीफाई कर लिया। बुधवार को नेत्रा कुमानन तोक्यो खेलों के लिए क्वालीफाई करने वाली पहली भारतीय महिला सेलर बनी थी। उन्हें मुसानाह ओपन चैंपियनशिप के जरिए लेजर रेडियल स्पर्धा में क्वालीफाई किया। यह प्रतियोगिता एशियाई ओलंपिक क्वालीफाइंग टूर्नामेंट था। बुधवार तक तीसरे स्थान पर चल रहे सरवनन ने गुरुवार को पदक रेस जीतकर कुल दूसरे स्थान के साथ ओलंपिक कोटा हासिल किया। सरवनन ने थाईलैंड के कीराती बुआलोंग को पछाड़कर ओलंपिक कोटा हासिल किया। सिंगापुर के रेयान लो जुन हान शीर्ष पर रहे। इस चैंपियनशिप के जरिए लेजर क्लास की स्पर्धा से दो सेलर को ओलंपिक में जगह मिली थी। भारतीय याचिंग संघ के संयुक्त सचिव कैप्टन जितेंद्र दीक्षित ने पीटीआई को बताया, ‘‘हां, विष्णु ने ओलंपिक के लिए क्वालीफाई कर लिया है। नेत्रा बुधवार को पहले ही क्वालीफाई कर चुकी है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘बुधवार तक विष्णु थाईलैंड के सेलर के बाद तीसरे स्थान पर चल रहे थे, हालांकि दोनों के समान अंक थे। आज पदक रेस में विष्णु पहले स्थान पर रहे और इसलिए अंक तालिका में थाईलैंड के सेलर से ऊपर रहे।’’ दीक्षित ने बताया, ‘‘लेजर वर्ग में दो सेलर ने ओलंपिक में जगह बनाई और विष्णु दूसरे स्थान पर रहे। सिंगापुर का सेलर विष्णु से आज काफी आगे था और इसलिए विष्णु उसे नहीं पछाड़ पाया (शीर्ष स्थान से)।’’ इससे पहले चार मौकों पर दो भारतीय सेलर ने ओलंपिक के लिए क्वालीफाई किया है लेकिन उन्होंने समान स्पर्धा में ऐसा किया था। तोक्यो में भारत एक से अधिक स्पर्धा में हिस्सा लेगा। फारूख तारापोर और ध्रुव भंडारी की जोड़ी ने 1970 में 470 क्लास में हिस्सा लिया था जबकि तारापोर और कैली राव ने 1988 खेलों में इसी स्पर्धा में हिस्सा लिया था। तारापोर ने 1992 में बार्सीलोना में अपने तीसरे ओलंपिक में साइरस कामा के साथ इसी स्पर्धा में हिस्सा लिया। मानव श्राफ और सुमित पटेल ने 2004 एथेंस ओलंपिक में 49ईआर क्लास स्किफ में भाग लिया।

Recent Posts

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
%d bloggers like this: