अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

मुजफ्फरपुर में पुलिस-पब्लिक के बीच हिंसा, दारोगा को बंधक बनाया, दर्जनों पुलिस कर्मी और ग्रामीण जख्मी


मुजफ्फरपुरः- बिहार के मुजफ्फरपुरमें शराब बरामद करने गए पुलिसकर्मियों को ग्रामीणों ने बंधक बना लिया. इतना ही नहीं ग्रामीणों ने दारोगा अंजार आलम को कमरे में बंद कर पिटाई कर दी और अन्य जवानों पर पथराव कर दिया. ग्रामीणों ने पुलिस पर बेवजह परेशान करने का आरोप लगाया है.
दरअसल, रविवार की रात को सकरा थाना क्षेत्र के झिटकाही गांव में शराब की सूचना के बाद स्थानीय थाना के दारोगा अंजार आलम छापेमारी करने के लिए दलबल के साथ पहुंचे थे. इसके बाद संभावित इलाकों में छापेमारी की गई. जब मौके से शराब बरामद नहीं की गई तो गांववाले भड़क उठे और परेशान करने का आरोप लगाकर उनकी पिटाई कर दी.
इस घटना की सूचना के बाद थानेदार सरोज कुमार अतिरिक्त फोर्स लेकर मौके पर पहुंचे. पुलिस को देखते ही लोगों ने दोबारा छत पर से पथराव शुरू कर दिया. अचानक हुए हमले में पुलिस को पीछे हटना पड़ा. इसके बाद सकरा पुलिस ने करीब 10 राउंड हवाई फायरिंग की, तब जाकर भीड़ तितर-बितर हुई. हालांकि ईटीवी भारत पुलिस फायरिंग की पुष्टि नहीं करता है.
फिर बंधक बनाए गए दारोगा अंजार आलम सहित तीन जवानों को छुड़ाया. इन्हें गांव के एक घर के कमरे में बांधकर ग्रामीण वहां से फरार हो गए थे. इन्हें छुड़ाने के बाद पुलिस ने उपद्रवियों को खोज-खोजकर पिटाई शुरू कर दी.
इधर पुलिस की पिटाई में करीब एक दर्जन पुलिसकर्मी और ग्रामीण जख्मी बताए जा रहे हैं. ग्रामीणों की पिटाई में घायल दारोगा और जवानों का सकरा अस्पताल में इलाज चल रहा है. ग्रामीण भी छिपकर इलाज करा रहे हैं. पुलिस ने मौके से आधा दर्जन लोगों को हिरासत में भी लिया है.

%d bloggers like this: