January 26, 2021

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

कोल ट्रांसपोर्टिंग को ले कर कराए जा रहे सड़क निर्माण के विरुद्ध ग्रामीण हुए गोलबंद

चतरा:- हजारीबाग के केरेडारी स्थित चट्टी बरियातू माइंस से शिवपुर रेलवे साइंडिंग तक कोल ट्रांसपोर्टिंग को ले कराए जा रहे सड़क निर्माण कार्य का विरोध शुरू हो गया है। चतरा के टंडवा प्रखंड अंतर्गत कबरा व अन्य गॉंवों की घनी आबादी के बीच रांची की अल्टीमा इंफ्रास्ट्रक्चर कंपनी द्वारा करीब 23 करोड़ की लागत से कराए जा रहे साढ़े सात किलोमीटर सड़क निर्माण के विरुद्ध ग्रामीणों ने विधायक के नेतृत्व में बैठक की। इस बैठक में ट्रांसपोर्टिंग सड़क निर्माण के विरुद्ध एक शुर में ग्रामीणों ने जोरदार विरोध करने का निर्णय लिया। बैठक में स्थानीय ग्रामीणों के अलावे जनप्रतिनिधि व सड़क निर्माण कंपनी के प्रतिनिधि उपस्थित हुए। बैठक में ग्रामीणों ने घनी आबादी के बीच बन रही ट्रांसपोर्टिंग सड़क को किसी भी हाल में पूरा नहीं करने देने का निर्णय लिया। सभी ग्रामीणों ने ट्रांसपोर्टिंग सड़क निर्माण का कड़ा विरोध करते कहा कि सड़क निर्माण खैलहा, वृंदा व कबरा के धनी आवादी से नही होने दिया जाएगा। सड़क किनारे कई सरकारी और गैर विद्यालय आंगनबाड़ी केंद्र भी है। ग्रामीणों का कहना है कि सड़क एनटीपीसी की चट्टी बरियातू कोल माइंस से कोयला ट्रांसपोर्टिंग के लिए बनाई जा रही है। ऐसे में इस सड़क के बनने से ग्रामीणों को भारी मुश्किलों का सामना करना पड़ेगा। खासकर स्कूली बच्चों को विद्यालय जाने में काफी परेशानी होगी। ग्रामीणों का यह भी कहना है कि सड़क निर्माण कार्य आबादी से हटाकर किया जाए इसमें ग्रामीणों को कोई आपत्ति नही होगी। इस मामले में विधायक ने कहा कि समस्या काफी गंभीर है। उन्होंने कंस्ट्रक्सन कंपनी को दस दिनों तक काम बंद रखने की बात कही हैं। विधायक ने उच्च अधिकारी से बात कर समाधान निकलने की कही हैं। विधायक ने कहा कि जिस स्थान पर सड़क का निर्माण कराया जा रहा है वह वन विभाग की जमीन है। ऐसे में अगर घनी आबादी के बजाय गांव से दूर सड़क का निर्माण हो तो किसी को कोई परेशानी नहीं होगी। मामले को ले जल्द ही संबंधित विभाग के अलावे वन विभाग से पत्राचार किया जाएगा।

Recent Posts

%d bloggers like this: