January 26, 2021

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

हिरासत में आरोपी की मौत से उग्र हुए ग्रामीणों ने किया हंगामा

पटना:- बिहार की राजधानी पटना में शराब तस्‍करी के मामले में गिरफ्तार आरोपी की पुलिस हिरासत में मौत के कारण उग्र हुए ग्रामीणों ने रविवार को गौरीचक थाना का घेराव कर रोड़ेबाजी की ।
पुलिस सूत्रों ने यहां बताया कि शराब मामले में गिरफ्तार धर्मेंद्र मांझी की गौरीचक थाना हाजत में हुई मौत से आक्रोशित परिजनों और ग्रामीणों ने रविवार की सुबह थाने का घेराव किया । ग्रामीणों ने पटना-गया उच्च पथ को टायर जलाकर जाम कर दिया। पुलिस जब उन्हें समझाने गई तो ग्रामीण और उग्र हो गए तथा थाना पर पथराव करने लगे। पुलिस के कई वाहनों को भी क्षतिग्रस्त कर दिया।
स्थिति बेकाबू होते देख वरीय पुलिस अधीक्षक उपेंद्र शर्मा भी दलबल के साथ मौके पर पहुंच गए ।इसके साथ ही कई थानों की पुलिस और स्पेशल ऑक्जिलरी पुलिस (सैप) के जवानों को भी बुला लिया गया । पुलिस ने स्थिति को नियंत्रण में करने के लिए लाठीचार्ज भी किया । कुछ देर के हंगामे के बाद पुलिस स्थिति को काबू करने में सफल हुई ।
गौरतलब है कि पटना शहर से लगे गौरीचक थाना क्षेत्र के बड़का चिपुरा निवासी धर्मेंद्र मांझी समेत दो लोगों को पुलिस शराब तस्करी के मामले में शुक्रवार को गिरफ्तार कर थाने लाई थी। शनिवार को उसे अदालत में पेश किया गया , जहां से उसे न्यायिक हिरासत में जेल भेजने का आदेश हुआ, लेकिन देर होने की वजह से उसे जेल नहीं भेजा जा सका और फिर से थाना हाजत में बंद कर दिया गया। पुलिस के अनुसार हाजत में उसकी तबीयत बिगड़ने के बाद उसे संपतचक प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र ले जाया गया। जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।
उधर परिजनों का आरोप है कि पुलिस की पिटाई से धर्मेंद्र की मौत हुई है। ऐसे में दोषी पुलिसकर्मियों को तत्काल निलंबित करते हुए उनके खिलाफ केस दर्ज कर कार्रवाई की जाए और परिजनों को तत्काल आर्थिक सहायता दी जाए ।

Recent Posts

%d bloggers like this: