January 21, 2021

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

झारखण्ड मुक्ति मोर्चा के द्वारा रांची में हुए दर्दनाक घटना से लोगों का ध्यान भटकाने के लिए तरह-तरह के प्रपंच रचे जा रहे हैं-संजय पोद्दार

रांची:- भारतीय जनता युवा मोर्चा के पूर्व प्रदेश मीडिया प्रभारी संजय पोद्दार ने कहा झारखंड मुक्ति मोर्चा द्वारा रांची में घटित दर्दनाक घटनाओं से लोगों का ध्यान भटकाने के लिए तरह-तरह के प्रपंच रच रही है झारखंड मुक्ति मोर्चा प्रशासनिक व्यवस्था में फेल होने पर अपनी नाकामी को छुपाने के लिए भारतीय जनता पार्टी को केंद्रित कर अपना पाप छुपाना चाहती है जबकि दिल्ली में हुए निर्भया कांड से भी ज्यादा दर्दनाक घटना रांची में घटित हुई , मृत लड़की के साथ घटित हुई बर्बरतापूर्ण घटना जिस पर पुलिस अभी तक एक कदम भी आगे नहीं बढ़ पाई है और उसी का परिणाम है कि आक्रोशित लोगों द्वारा महिलाओं पर हो रहे अत्याचार को लेकर के आंदोलन की गई।

जिसे अब सरकार के इशारे पर प्रशासन द्वारा आंदोलनकारियों को गुंडा कहना ओर झारखण्ड मुक्ति मोर्चा के कार्यकर्ताओं द्वारा पुतला दहन कार्यक्रम कर लोगों का ध्यान को भटकाते हुए उन आंदोलनकारियों को गुंडा और पार्टी का कार्यकर्ता बताया जा रहा है। लेकिन जिस बच्ची के साथ यह दर्दनाक घटना हुई है उस पर एक शब्द भी नहीं बोल रहे है। जबकि झारखंड सरकार झारखंड में पूरी तरह से महिलाओं को सुरक्षा देने में विफल रही है जिन वादों के साथ वह सरकार में आई वे सभी वादे धरे के धरे रह गए, लोगो मे आक्रोश बढ़ रहा है। लॉकडाउन के समय हिंदपीडी में जब सीआरपीएफ के जवानों को एक विशेष समुदाय द्वारा मारपीट की गई थी उस वक्त प्रशासन इतनी गंभीर क्यों नहीं हुई आज वैसे आंदोलनकारियों और आक्रोशित लोगों को गुंडा कह उन पर कार्रवाई करते हुए उनकी आवाज को दबाने का काम किया जा रहा है। जिस पार्टी के झारखंड में सरकार है और 1 वर्ष में 15 सौ से ज्यादा महिलाओं पर अत्याचार हो चुके हैं वह यहा विपक्ष में बैठे बीजेपी को दूसरे राज्यों की उदाहरण दे रहे है। जबकि उन्हें जनता को झारखंड में महिलाओं पर हो रहे अत्याचार, लूट, नक्सली घटनाओं को लेकर के जवाब देना चाहिए। आजकल की जनता अपडेट है वह सब जानती है उन्हें भटकाने की कोशिश ना करें झारखण्ड मुक्ति मोर्चा के कार्यकर्ता। यह सब छोड़ उन्हें झारखंड की निर्भया को न्याय कैसे मिले उस पर ध्यान लगाना चाहिए।

Recent Posts

%d bloggers like this: