अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

चीन से बढ़ते तनाव के बीच अमेरिका ने तिब्बती मुद्दों के लिए विशेष कोआर्डिनेटर किया नियुक्त


वाशिंगटन:- अमेरिका ने उजरा ज़ेया को तिब्बती मुद्दों के लिए देश का नया विशेष समन्वयक अधिकारी नियुक्त किया है। राज्य सचिव एंटनी ब्लिंकन ने एक बयान के माध्यम से कहा कि वह नागरिक सुरक्षा, लोकतंत्र और मानवाधिकार के लिए अवर सचिव के रूप में अपनी वर्तमान भूमिका के साथ-साथ पद संभालेंगी।समन्वयक की भूमिका में चीनी सरकार और दलाई लामा के बीच “पर्याप्त वार्ता” को बढ़ावा देना शामिल है। समन्वयक को तिब्बत की विशिष्ट पहचान को बढ़ावा देने, तिब्बतियों के मानवाधिकारों की रक्षा करने और तिब्बत पर अमेरिकी नीति का समन्वय करने वाला भी माना जाता है।
ब्लिंकन ने एक बयान में कहा, गतिविधियों की एक सूची के हिस्से के रूप में सुश्री ज़ेया अपनी नई भूमिका में कार्य करेंगी। विशेष रूप से वह बिना किसी पूर्व शर्त के पीपुल्स रिपब्लिक ऑफ चाइना (पीआरसी) की सरकार और दलाई लामा, उनके प्रतिनिधियों, या तिब्बत पर बातचीत के समझौते के समर्थन में लोकतांत्रिक रूप से चुने गए तिब्बती नेताओं के बीच वास्तविक संवाद को बढ़ावा देंगी। ब्लिंकन ने कहा कि सुश्री ज़ेया “पर्यावरण की रक्षा के लिए गतिविधियों को भी बढ़ावा देंगी और तिब्बती पठार के पानी और अन्य प्राकृतिक संसाधनों का स्थायी प्रबंधन करेंगी ।
यह पद, जो अमेरिका के तिब्बती नीति अधिनियम (2002) द्वारा स्थापित किया गया था, ट्रंप प्रशासन के काल से खाली पड़ा था। यानि जनवरी 2017 से अक्टूबर 2020 तक, जब विदेश विभाग के अधिकारी रॉबर्ट डेस्ट्रो को इस भूमिका के लिए नियुक्त किया गया था। सुश्री ज़ेया का जन्म उत्तरी कैरोलिना में हुआ था । ज़ेया के माता-पिता के भारत से यहाँ आकर बस गए थे।
तिब्बत के लिए अंतर्राष्ट्रीय अभियान ने तिब्बती मुद्दों के लिए अमेरिका के नए विशेष समन्वयक के रूप में उजरा ज़ेया की नियुक्ति का स्वागत किया है और आशा व्यक्त की है कि वह दलाई लामा के दूतों और उनके बीच संवाद को बढ़ावा देने के लिए सक्रिय रूप से काम करेंगी। जेया इस भूमिका में काम करने वाली पहली भारतीय अमेरिकी होंगी। भारत तिब्बती निर्वासितों की दुनिया की सबसे बड़ी आबादी का घर है।

%d bloggers like this: