April 13, 2021

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

पेट्रोलियम पदार्थों की बढती कीमत पर रास में हंगामा, नहीं हुआ कामकाज

नयी दिल्ली 08 मार्च:- राज्यसभा में मुख्य विपक्षी दल कांग्रेेस तथा अन्य दलों ने पेट्रोल और डीजल की दिनों दिन बढती कीमत को लेकर आज राज्यसभा में हंगामा किया जिसके कारण चार बार के स्थगन के बाद सदन की कार्यवाही दिनभर के लिए स्थगित कर दी गयी। सोमवार सुबह कार्यवाही शुरू होते ही सभापति एम वेंकैया नायडू ने तीन नये सदस्यों को शपथ दिलायी तथा सदन ने दिवंगत सदस्यों को श्रद्धांजलि दी। शून्यकाल के दौरान महिला सदस्यों ने अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर अपने विचार रखे। इसके बाद जब श्री नायडू ने प्रश्नकाल शुरू करने के लिए सदस्य का नाम पुकारा तो सदन में विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि पेट्रोल और डीजल की कीमत आसमान छू रही है और उन्होंने इस ज्वलंत मुद्दे पर चर्चा कराने के लिए नियम 267 के तहत कार्य स्थगन प्रस्ताव का नोटिस दिया है। सभापति ने कहा कि उन्होंने इस नोटिस को स्वीकार नहीं किया है और सदस्य विनियोग विधेयक पर चर्चा तथा अन्य मौकों पर इस मुद्दे पर अपनी बात रख सकते हैं। उन्होंने कहा कि आज बजट सत्र के दूसरे चरण की कार्यवाही का पहला दिन है इसलिए सदस्यों को शांत रहकर सुचारू ढंग से कार्यवाही चलने देनी चाहिए। यह सुनते ही कांग्रेस और अन्य विपक्षी दलों के सदस्यों ने चर्चा कराने की मांग को लेकर हंगामा करना शुरू कर दिया। सदन में अव्यवस्था को देखते हुए श्री नायडू ने कार्यवाही ग्यारह बजे तक स्थगित कर दी। इसके बाद उप सभापति हरिवंश ने जब 11 ब्जे कार्यवाही दोबारा शुरू करनी चाहिए तो कांग्रेस के सदस्यों ने अपनी मांग दोहरायी इस पर श्री हरिवंश ने कहा कि सभापति इस मुद्दे पर व्यवस्था दे चुके हैं और इस पर पुनर्विचार नहीं किया जा सकता। श्री खड़गे ने कहा कि यह बेहद महत्वपूर्ण मुद्दा है और इसपर चर्चा नहीं टाली जा सकती। विपक्षी सदस्यों ने एक बार फिर शोर शराबा शुरू कर दिया जिसके चलते उप सभापति ने सदन की कार्यवाही एक बजे तक स्थगित कर दी। एक बजे भी सदन में व्यवस्था कायम नहीं होने पर सदन की कार्यवाही पहले सवा बजे और फिर डेढ बजे तक स्थगित करनी पड़ी। इसके बाद पीठासीन उप सभापति वंदना चौहान ने सदन की कार्यवाही शुरू होने पर कहा कि उनके पास सदस्यों के लिए अच्छी खबर है। उन्होंने कहा कि अनेक सदस्यों ने सभापति से अनुरोध किया था कि कार्यवाही के समय में बदलाव किया जाना चाहिए इसे ध्यान में रखते हुए अब सदन की कार्यवाही नियमित समय यानी सुबह ग्यारह बजे से शाम छह बजे तक चलेगी। उन्होंने कहा कि सदस्यों के बैठने की व्यवस्था भी पहले की तरह कर दी गयी है। अब सदस्य पहले की तरह सदन में अपनी जगहों पर बैठेंगे हालाकि कुछ सदस्य अभी भी राज्यसभा की दीर्घा में बैठेंगे। इसके बाद उन्होंने सदन की कार्यवाही मंगलवार तक के लिए स्थगित कर दी। इस तरह बजट सत्र के दूसरे चरण के पहले दिन सदन में कोई विशेष विधायी कामकाज नहीं हो पाया। बजट सत्र का पहला चरण 29 जनवरी से 12 फरवरी तक हुआ था। दूसरा चरण आठ मार्च से आठ अप्रैल तक चलेगा।

Recent Posts

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
%d bloggers like this: