April 13, 2021

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

चार साल में निवेशकों की पहली पसंद बन चुका है यूपी : योगी

लखनऊ:- उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार को दावा किया कि पिछले चार वर्षो के कार्यकाल के दौरान उनकी सरकार ने कानून व्यवस्था,इंफ्रास्ट्रक्चर और उद्योग में सुगमता की दिशा में उल्लेखनीय कार्य किया है,नतीजन देश की घनी आबादी वाला यह राज्य आज निवेशकों की पहली पसंद बन चुका है। अपनी सरकार की चौथी सालगिरह के मौके पर उपलब्धियों का बखान करते हुये श्री योगी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के मार्गदर्शन में उनकी सरकार ने पूर्ववर्ती व्यवस्था में रिफार्म,परफार्म और ट्रांसफार्म की नीति पर अमल करते हुये 24 करोड़ जनता की आंकाक्षाओं पर खरा उतरने का काम किया है। वर्ष 2015-16 में प्रदेश की अर्थव्यवस्था देश में 5वें छठे स्थान पर थी जबकि आज यह देश की दूसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन चुकी है। उन्हाेने कहा कि प्रदेश की खस्ताहाल अर्थव्यवस्था की दशा में सुधार के लिये निवेश को आकर्षित करने की दिशा में उनकी सरकार ने जरूरी कदम उठाये। इस दिशा में जीरो टालरेंस नीति पर चलते हुये संगठित अपराध का सफाया किया गया वहीं बिजली,सड़क और हवाई नेटवर्क में सुधार किया गया। नये उद्यम लगाने की प्रक्रिया को सुगम और पारदर्शी बनाया गया। श्री योगी ने कहा कि उत्तर प्रदेश व्यवसाय और उद्यम के लिहाज से सबसे पंसदीदा स्थान बन गया है। ईज आफ डुइंग बिजनेस रैकिंग में यूपी 14वें स्थान से दूसरे स्थान पर पहुंच गया है। निजी क्षेत्र में करीब तीन लाख करोड़ रूपये के निवेश प्रस्ताव जमीन पर उतर चुके है जिससे औद्योगिकीकरण काे रफ्तार मिली और प्रदेश के नौजवानो के लिये 35 लाख से अधिक नौकरियां पैदा हुयी। उन्होने कहा कि भर्ती प्रक्रिया को पारदर्शी बनाया गया और चार लाख से अधिक युवाओं को सरकारी नौकरी प्रदान की गयी। वर्ष 2017 से पहले की सरकार की नीतियों के चलते प्रदेश की जनता को केन्द्र की योजनाओं का लाभ नही मिल पाता था जबकि आज उत्तर प्रदेश विभिन्न केन्द्रीय योजनाओ के क्रियान्वयन में पहले स्थान पर है। प्रधानमंत्री आवास योजना,उज्जवला योजना,प्रधानमंत्री जनधन योजना,प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना,प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि और सौभाग्य योजना का शत प्रतिशत लाभ प्रदेश की जनता को मिल रहा है। श्री योगी ने कहा कि प्रदेश सरकार की विकासपरक और रोजगारन्मुख नीतियों का नतीजा है कि आज प्रति व्यक्ति आय में दोगुने से अधिक की बढ़ोत्तरी हुयी है। 2015-16 में प्रदेश में प्रति व्यक्ति आय करीब 45 हजार रूपये थी जो अब 95 हजार प्रति व्यक्ति हो चुकी है। श्री योगी ने कहा कि चार साल पहले तक किसान राजनीति के एजेंडे में कभी नहीं रहे। उनकी सरकार ने सत्ता में आते ही 86 लाख लघु एवं सीमांत किसानो का 36 करोड़ रूपये का फसली ऋण माफ कर अपना चुनावी वादा पूरा किया। कृषि क्षेत्र में बिचौलियों की भूमिका को समाप्त करते हुये किसानो को देय भुगतान डीबीटी के जरिये किया और ऐसा करने वाला देश का पहला राज्य बनने का गौरव प्राप्त किया।
उन्होने कहा कि किसानो की आय दो गुना करने और कृषि क्षेत्र को मजबूती प्रदान करने के लिये किसान कल्याण मिशन संचालित किया जा रहा है। एमएसपी में करीब दो गुने की बढोत्तरी की गयी। सरकार की नीतियों के चलते गेहूं,चना, चीनी,आले,हरी मटर,दुग्ध,आम,आवंला,गन्ना एवं चीनी तथा तिलहन उत्पादन में उत्तर प्रदेश पहले स्थान पर है। पिछले चार सालों में एमएसपी पर 378 मीट्रिक टन खाद्यान्न खरीदा गया और उसके एवज में 66 हजार करोड़ रूपये का भुगतान किया गया।
मुख्यमंत्री ने कहा कि 46 वर्षो में लंबित बाण सागर परियोजना समेत पिछले तीन वर्षो में कुल 11 परियोजनायें पूरी की जा चुकी हैं जिनसे 2.21 लाख हेक्टेयर अतिरिक्त सिंचन क्षमता का सृजन हुआ तथा 2.33 लाख किसान लाभान्वित हुये। उन्होने कहा कि मौजूदा साल में नौ अन्य परियोजनाओं को पूरा करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। इससे 16.41 हेक्टेयर की अतिरिक्त सिंचन क्षमता सृजित होगी।
उन्होने कहा कि कोरोना काल में प्रदेश की सभी 119 चीनी मिलो का संचालन किया गया और एक लाख 27 हजार 482 करोड़ रूपये से अधिक का रिकार्ड गन्ना मूल्य का भुगतान किया गया। 267 नयी खांडसारी इकाइयो के लाइसेंस मंजूर किये।
ग्रामीण विकास की दिशा में वनटंगिया,मुसहर और कोल जनजाति के 38 गावों को राजस्व ग्राम का दर्जा दिया गया वहीं मुसहर वर्ग के 38 हजार 112,वनटंगिया वर्ग को चार हजार 779 और कुष्ठ राेग से प्रभावित दो हजार 115 परिवारों को आवास उपलब्ध कराये गये।
उन्होने कहा कि कोरोना प्रबंधन में प्रदेश सरकार ने उल्लेखनीय सफलता हासिल की है जिसकी सराहना डब्लूएचओ ने भी की है। पिछले साल मार्च में 60 टेस्ट प्रतिदिन से शुरूआत करते हुये यूपी आज पौने दो लाख टेस्ट करने वाला देश का पहला राज्य बन चुका है। सार्वजनिक और निजी क्षेत्र में कोविड जांच के लिये 234 प्रयोगशालायें स्थापित की गयी है।

Recent Posts

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
%d bloggers like this: