April 13, 2021

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

उप्र : सड़क निर्माण की मांग को लेकर चक्का जाम -भदोही-जौनपुर की सीमा में बहादुर सिंह महाविद्यालय के पास चक्का जाम

-जौनपुर की सीमा में आक्रोशित भीड़ ने तीन तरफ से सड़कों को किया जाम

-भदोही-जौनपुर जिले का घंटो टूटा रहा संपर्क, पुलिस ने किसी तरह खत्म कराया जाम

भदोही:- उत्तर प्रदेश के भदोही-जौनपुर की सीमा में सोमवार को सड़क निर्माण की मांग को लेकर जनसैलाब सड़क पर उतर पड़ा। जिसकी वजह से भदोही और जौनपुर जिले का संपर्क कई घंटे तक टूट गया। चक्का जाम की वजह से जहां दोनों जिलों की सीमाओं में वाहनों की कतार लग गई, वहीं आम लोगों को भी भारी मुश्किलें झेलनी पड़ी। बाद में जिला प्रशासन ने किसी तरह जाम को खत्म कराया।
भदोही और जौनपुर जिले की सीमा को विभाजित करने वाली वरुणा नदी पर बने पंड़ित दीनदयाल सेतु का निर्माण किया गया है। लेकिन अभी तक इस सेतु का लोकार्पण तक नहीं हो सका है। भदोही की सीमा में सड़क बनी है, लेकिन जौनपुर जिले की सीमा में सड़क का निर्माण 15 सालों से अधूरी पड़ी है। जिसकी वजह से आए दिन दुर्घटनाएं होती रहती हैं। बारिश के मौसम में तो पूरी सड़क पानी में डूब जाती है जिसकी वजह से दोनों जिलों को जोड़ने वाला सुरियावां वाया अभिया-मीरंगज मार्ग पूरी तरह ठप हो जाता है। सड़क निर्माण न होने को लेकर जौनपुर जिले की सीमा स्थित बहादुर सिंह महाविद्यालय के पास सैकड़ों की संख्या में ग्रामीणों ने जौनपुर की सीमा में जाम लगा दिया। जौनपुर पुलिस चक्का जाम कर रहे लोगों को समझाने का प्रयास किया लेकिन भीड़ सुनने को तैयार नहीं थी। उसका कहना था कि जब तक जौनपुर जिलाधिकारी जाम स्थल पर पहुंच कर आश्वासन नहीं देते तब तक यह जाम खत्म नहीं होगा। भदोही-जौनपुर की सीमा में चक्का जाम की वजह से सुरियावां वाया अभिया-मीरंगज मार्ग, जंघई-मीरगंज मार्ग और जंघई-मीरगंज मार्ग से निकल कर कटवार तक जाने जाने वाला मार्ग पूरी तरह अवरुद्ध हो गया। जिसकी वजह से सैकड़ों की संख्या में वाहन और आम लोग बिलबिलाते रहे। इस दौरान जौनपुर से भदोही में आने वाले शिक्षक, बैंक से जुड़े लोग और आम राहगीर घंटों फंसे रहे। सुबह आठ बजे से चालू जाम कई घंटे तक चला जिसकी वजह से लोगों की परेशानी बढ़ गई। समाजसेवी जग सिंह अन्ना जाम का नेतृत्व कर रहे थे। उन्होंने बताया कि वरुणा नदी पर बने पंड़ित दीनदयाल सेतु से बहादुर सिंह महावियालय तक जौनपुर की सीमा में एक किमी सड़क पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो गई है। हर दिन दुर्घटना होती है। 15 साल से हम लोग इस सड़क के निर्माण की मांग कर रहे हैं, लेकिन कोई नहीं सुन रहा है। यह सड़क जिला पंचायत की है जिसे हम लोग कटवाकर पीडब्लूडी में लाना चाहते हैं। यही वजह से है कि सड़क का निर्माण नहीं हो रहा है। हम लोग सांसद, विधायक और अधिकारियों से गुहार लगाते थक गए हैं जिसके बाद यह कदम उठाना पड़ा है। वरुणा सेतु तक जौनपुर की सीमा में सड़क पूरी तरह ध्वस्त है। इसके बाद भदोही और जौनपुर की सीमा में भी सड़क धंस गई है। सेतु का एप्रोच मार्ग सहीं तरीके से निर्मित न होने से हर बारिश में यह सड़क धंस कर जानलेवा साबित होती है। लेकिन जौनपुर जिला प्रशासन इस तरफ ध्यान नहीं देता है। बाद में किसी तरह पुलिस प्रशासन ने जाम को खत्म कराया जिसके बाद लोगों ने राहत की सांस लिया।

Recent Posts

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
%d bloggers like this: