संयुक्त राष्ट्र:- विदेश मंत्री डॉ. एस जयशंकर ने गुरुवार को यूक्रेन मसले पर भारत के रुख को दोहराते हुये कहा कि यूक्रेन में सभी तरह की शत्रुता को तत्काल समाप्त कर कूटनीति वार्ता करने चाहिये। उन्होंने कहा कि “संघर्ष” गहरी चिन्ता का विषय है।
यूक्रेन पर संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की बैठक में बोलते हुए, विदेश मंत्री ने कहा कि भविष्य का दृष्टिकोण और भी अधिक परेशान करने वाला प्रतीत होता है।
मंत्री ने कहा, “एक वैश्वीकृत दुनिया में, संघर्ष का प्रभाव दूर के क्षेत्रों में भी महसूस किया जा रहा है। हम सभी ने बढ़ती लागत और खाद्यान्न, उर्वरक और ईंधन की वास्तविक कमी के संदर्भ में इसके परिणामों का अनुभव किया है। हमें चिन्ता करने के पर्याप्त कारण है ”।

Leave a Reply

%d bloggers like this: