अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

ओडिशा में ओमिक्रॉन के दो मामलों की पुष्टि


भुवनेश्वर:- ओडिशा में कोरोना वायरस के ओमिक्रॉन वैरिएंट के दो नये मामले सामने आए हैं, जिनमें से एक नाइजीरिया से लौटा, जबकि दूसरा कतर से लौटा है। ओडिशा के स्वास्थ्य अधिकारियों ने मंगलवार को यह जानकारी दी। अधिकारियों ने बताया कि इन दोनों का जीनोम सीक्वेंसिंग के लिए इंस्टीट्यूट ऑफ लाइफ साइंस (आईएसएस) भेजा गया था। आईएलएस के सूत्रों ने बताया कि देश के पूर्वी राज्य ओडिशा में कोरोना के नए वैरिएंट का यह पहला मामला है। नाइजीरिया से लौटा ओमिक्रॉन संक्रमित व्यक्ति जगतपुर का निवासी है और कटक के अस्पताल में भर्ती है, जबकि कतर से लौटा ओमिक्रॉन संक्रमित कोरधा का निवासी है और भुवनेश्वर के अस्पताल में भर्ती है। दोनों संक्रमितों में इस संक्रमण के लक्षण दिखाई नहीं दे रहे हैं। इन दोनों के सम्पर्क में आए 21 लोग अब तक निगेटिव पाए गए हैं। ओमिक्रॉन के मामले पाए जाने के मद्देनजर एक उच्च स्तरीय बैठक चल रही है। सूत्रों ने बताया कि ओमिक्रॉन के मरीजों में कोरोना के लक्षण दिखाई नहीं दे रहे हैं। इन दोनों को सिर्फ खांसी की तकलीफ है। स्वास्थ्य विभाग के सूत्रों ने बताया कि राज्य में अब तक 8800 लोग विदेश से लौटे हैं और इनमें से 1600 रिस्क वाले देशों से लौटे हैं। स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक विदेश से लौटे 12 लोग आरटी-पीसीआर जांच में कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे, जिनके नमूनों को जीनोम सीक्वेंसिंग के लिए भेजा गया गया था। उनमें से दो लोग ओमिक्रॉन से ग्रसित पाए गए हैं। ओमिक्रॉन के मामले मिलने के मद्देनजर स्वास्थ्य विभाग तथा अन्य संबंधित विभागों के अधिकारियों की लोक सेवा भवन में उच्च स्तरीय बैठक हो रही है।

%d bloggers like this: