June 19, 2021

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

चर्चित देशियाटोली हत्या कांड में दो और गिरफ्तारी से साज़िशकर्ता हुआ बेनकाब

किशनगंज 03 जून:- बाहदुरगंज थाना क्षेत्र के बहुचर्चित देशियाटोली हंत्या कांड में दो और गिरफ्तारी को अंजाम देकर गठित दल के नेतृत्वकर्ता एसडीपीओ अनवर जावेद ने बड़ा खुलासा कर दिया है। यह बात पुलिस अधीक्षक कुमार आषीश ने गुरूवार को बतायी। उन्होनें कहा कि गिरफ्तार दोनों आरोपी हत्या कांड के साजिशकर्ता निकले और अपने गुनाह का कबूलनामा भी दर्ज करा दिया है।
एसपी ने कहा कि टीम द्वारा घटनास्थल का कई बार निरीक्षण कर, आसूचना संकलन एंव तकनीकी अनुसंधान के माध्यम से व साक्ष्य संकलन करते हुए मंगलवार 02 जून 21 को महेन्द्र लाल उर्फ मेन, पिता-स्व0 गेंदु लाल हरिजन, सा०-देशियाटोली को गिरफ्तार किया गया।।पूछताछ के क्रम में इन्होंने घटना में अपनी संलिप्तता स्वीकार करते हुये घटना के षड्यंत्र को विस्तृत रूप से बताया कि पिछले पाँच-छ वर्षों से मृतक की पत्नी सुनीता देवी से इनका अवैध संबंध रहा है जिसकी जानकारी मृतक को थी। जिसको लेकर मृतक द्वारा इस अवैध संबंध का निरन्तर विरोध किया जा रहा था तथा अपनी पत्नी को गाली-गलौज एवं मारपीट करते थे। आठ महीना पूर्व महेन्द्र उर्फ मेन द्वारा एक छोटा मोबाईल जिसमें सीम नं0-7765882347 लगा हुआ था खरीद कर सुनीता को दिया था। जिससे घंटों बातें हुआ करती थी। घटना के एक दिन पूर्व इसी अवैध संबंध को लेकर मृतक एवं महेन्द्र उर्फ मेन के बीच गाली-गलौज की घटना हुई थी। तत्पश्चात गत-23/मई 21 के संध्या में महेन्द्र एवं सुनीता के बीच घटना कारित करने के संबंध में योजना को अंतिम रूप दिया गया। योजनानुसार ही उस रात्रि में महेन्द्र उर्फ मेन केवल जांघिया पहने हुए चाकू के साथ मृतक के घर आया तथा मृतक की पत्नी ने दरवाजे के एक किवाड़ को बन्द एवं दूसरे को सटा कर रखा था। महेन्द्र उर्फ मेन अन्दर घुसकर दिवार की तरफ सोये हुए लालचंद के गले पर चाकू से वार करके फरार हो गया एवं चाकू को छुपा दिया तथा सुनीता देवी द्वारा भी साक्ष्य छुपाने की नीयत से महेन्द्र उर्फ मेन के द्वारा दिया गया मोबाईल को फेंक दिया गया। महेन्द्र उर्फ मेन की निशानदेही पर घटना में प्रयुक्त चाकू को मेन के ही जलावन वाले घर से बरामद किया गया। तत्पश्चात मृतक की पत्नी सुनीता देवी को मंगलवार को गिरफ्तार किया गया।पूछताछ के क्रम में वह अपने गुनाह को कबूल करते हुए घटना हेतु रचे गए षड्यंत्र के बारे में विस्तृत रूप से बतायी‌। इस षड्यंत्र में शामिल अन्य लोगों के बारे में भी बतायी कि पुलिस को गुमराह करने की नियत व स्वयं अपने प्रेमी महेन्द्र उर्फ मेन को बचाने तथा ग्रामीण राजनीति से प्रेरित होकर किसी बहकावे में आकर फर्द बयान में निर्दोष लोगों का नाम बतायी, जिनकी पहचान की जा रही है। उनके खिलाफ पुलिस द्वारा सख्त कारवाई की जायेगी।
लोगों व पुलिस को भ्रमित करने वाले इस चर्चित हत्या कांड को व वैज्ञानिक तरीके से सुलक्षाने तथा सच्चाई का पर्दाफाश करने के एवज में एसआईटी दल में शामिल सभी सदस्यों को पुरस्कृत किया जायेगा।
उल्लेखनीय है कि दिनांक 23/24.05.2021 के मध्य रात्रि में सूचना मिली कि बहादुरगंज थानान्तर्गत ग्राम देशियाटोली हरिजन टोला में लालचन्द हरिजन को अपराधियों द्वारा चाकू मार कर जख्मी कर दिया गया है। उक्त सूचना पर अविलम्ब स्थानीय थाना घटनास्थल पर पहुँचकर जख्मी लालचंद हरिजन को ईलाज हेतु एमजीएम किशनगंज भेजा गया। जख्मी को बेहतर उपचार हेतु चिकित्सकों द्वारा सिल्लीगुड़ी रेफर किया गया। रास्ते में ही जख्मी लालचंद हरिजन की मृत्यु हो गयी । शव को पोस्टमार्टम हेतु भेजते हुए मृतक की पत्नी सुनीता देवी के फर्दबयान के आधार पर तीन नामजद एवं दो अज्ञात के विरूद्ध बहादुरगंज थाना काण्ड सं0-147/21 दिनांक-24.05.2021 धारा-302/34 भा0द0वि0 एंव 3(2)(भी) एससी/एसटी एक्ट के अन्तर्गत दर्ज किया गया था।

संवाददाता : सुबोध

Recent Posts

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
%d bloggers like this: