अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

परिवहन एवं कल्याण मंत्री ने 11 पंचायतों के लिए पायलट प्रोजेट का किया शुभारंभ

शहरी क्षेत्र के तर्ज पर ग्रामीण क्षेत्रों में भी वेक्टर जनित रोगों से बचाव हेतु कराया जाएगा फॉगिंग

जमशेदपुर:- पूर्वी सिंहभूम जिले के 11 पंचायतों में पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर फॉगिंग कार्य का शुभारंभ आज परिवहन तथा एसटी, एससी एवं पिछला वर्ग कल्याण मंत्री चंपई सोरेन द्वारा किया गया । जिला उपायुक्त सूरज कुमार ने इस पायलट प्रोजेक्ट के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि 15वें वित्त की राशि से ग्रामीण क्षेत्र में फॉगिंग का प्रावधान किया गया है ताकि वेक्टर जनित रोग जैसे मलेरिया, डेंगू आदि के प्रकोप से ग्रामीण क्षेत्र के लोगों को सुरक्षित रखा जा सके । उन्होने बताया कि मॉनसून के दौरान बरसाती नालों एवं तालाब-पोखर में जलजमाव से मलेरिया, डेंगू आदि का खतरा रहता है ऐसे में नगरपालिका क्षेत्र के आलावा पंचायतों में भी फॉगिंग की आवश्यकता को देखते हुए फिलहाल इसे पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर सभी 11 प्रखंडों के 1-1 पंयायत में शुरू किया जाएगा तथा आगे इसे विस्तार दिया जाएगा ।
इस अवसर पर मंत्री ने फॉगिंग मशीन के कार्यप्रणाली को समझा तथा खुशी जाहिर करते हुए कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों के लिए जिला प्रशासन का यह एक संवेदनशील प्रयास है । वर्तमान में इसे बहरागोड़ा के डोमजुड़ी पंचायत, बांकीशोल(डुमरिया), अंगारपाड़ा (गुड़ाबांदा), हितकू(जमशेदपुर सदर), जुगीशोल(धालभूमगढ़), हेंदलजुड़ी(घाटशिला), बिरदोह(चाकुलिया), पोटका पंचायत(पोटका), तेरेंगा(मुसाबनी), पोखरिया(बोड़ाम) व लच्छीपुर(पटमदा) के लिए फॉगिंग मशीन उपलब्ध कराया गया है । मौके पर सांसद जमशेदपुर लोकसभा विधुत वरण महतो, विधायक घाटशिला रामदास सोरेन, बहरागोड़ा समीर मोहंती, पोटका संजीव सरदार, विधायक प्रतिनिधि पूर्वी एवं पश्चिमी विधानसभा, उप विकास आयुक्त परमेश्वर भगत, जिला पंचायत राज पदाधिकारी डॉ रजनीकांत मिश्रा, जिला परिवहन पदाधिकारी दिनेश रंजन, जिला जनसंपर्क पदाधिकारी रोहित कुमार तथा अन्य पदाधिकारी मौजूद थे ।

%d bloggers like this: