April 14, 2021

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

बक्सर के चौसा में प्लास्टिक के बोतलों से इको ब्रिक्स बनाने का दिया गया प्रशिक्षण

आरा:- बक्सर जिले के चौसा प्रखण्ड में नेहरू युवा केंद्र और नमामि गंगे परियोजना के तहत घर में उपयोग होने वाले प्लास्टिक व प्लास्टिक की बोतलों से छात्राओं को इको ब्रिक्स बनाने का प्रशिक्षण शुक्रवार को दिया गया। नमामि गंगे के जिला परियोजना अधिकारी शैलेश कुमार राय ने छात्राओं को घर में बेकार पड़े प्लास्टिक व प्लास्टिक के बोतल के सहारे दैनिक उपयोग में आने वाली चीजों को बनाने हेतु प्रशिक्षण दिया। शैलेश ने शुक्रवार को बताया कि सबसे पहले हमें प्लास्टिक एवं प्लास्टिक के वस्तुओं को अपने दैनिक जीवन से निकाल देना चाहिए। प्लास्टिक से अत्यधिक प्रदूषण का खतरा होता है। उन्होंने बताया कि हमें दैनिक उपयोग में प्लास्टिक को दरकिनार करना चाहिए। यदि हमारे घरों में बेकार प्लास्टिक पड़े हैं तो उनके सहारे हम इको ब्रिक्स बना सकते है। उन्होंने इको ब्रिक्स से होने वाले फायदे से भी छात्राओ को अवगत कराया और बताया कि इको ब्रिक्स से दो फायदे होंगे। एक तो प्लास्टिक का उपयोग भी हो जाएगा और दूसरा पर्यावरण का खतरा भी कम होगा। कार्यक्रम के दौरान प्लास्टिक का उपयोग न करने पर अत्यधिक जोर दिया गया। इस अवसर पर नवीन कुमार तिवारी,गरिमा पांडेय,रिंकी कुमारी,निधि पांडेय,नेहा जायसवाल,शालिनी कुमारी सहित कई लोग उपस्थित थे।

Recent Posts

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
%d bloggers like this: