अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

दुर्गा पूजा को लेकर सुरक्षा की चाक-चौबंद व्यवस्था


रांची:- दुर्गा पूजा से लेकर विसर्जन तक के लिए सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किये गये हैं। कल 11 अक्टूबर से 19 अक्टूबर तक राज्य में 5 हजार से अधिक की संख्या में अतिरिक्ति बलों की तैनाती की गई है। झारखंड पुलिस के आईजी (अभियान) अमोल वी होमकर ने इसको लेकर आदेश जारी किया है। दुर्गा पूजा को लेकर राजधानी सहित राज्य के सभी जिले में विधि व्यवस्था पुख्ता होगी। पुलिस मुख्यालय की ओर से दुर्गा पूजा समितियों से अपील की गई है कि कोविड-19 की गाइडलाइन का पालन करते हुए आडंबर ना करें। इसके साथ ही आकर्षक लाइट, साउंड बॉक्स आदि का प्रयोग वर्जित रहेगा। पंडाल में विराजमान माता की प्रतिमा को कपड़ा से ढंकने का निर्देश दिया गया है। इतना ही नहीं, जबरन चंदा वसूली की शिकायत मिलती है, तो कड़ी कार्रवाई की जाएगी। आईजी अभियान के निर्देश पर सबसे अधिक सुरक्षाबलों की तैनाती रांची में की गई है। रांची और हजारीबाग में रैपिड एक्शन पुलिस (रैप) की कंपनियों की तैनाती की गई है। वहीं, जगुआर के बम निरोधक दस्ते को भी रांची, गिरिडीह और हजारीबाग जिले में तैनात किया गया है। पुलिस मुख्यालय के आदेश के मुताबिक जंगलवार फेयर, जेएपीटीसी, जेपीए और जैप की अलग अलग ईकाईयों से जवानों की प्रतिनियुक्ति की गई है। जो 20 अक्टूबर को वापस उनके अपने-अपने वाहिनी में किये जाएंगे। आईजी अभियान ने कहा कि प्रत्येक पूजा पंडाल के समीप सादे लिबास के साथ पर्याप्त संख्या में वदीर्धारी पुलिस बल तैनात रहेंगे। संवेदनशील स्थलों पर संबंधित थाने के थाना प्रभारी से विशेष दस्ता लगाने और आपराधिक प्रवृति के लोगों पर नजर रखने की हिदायत दी गई है। जानकारी देते आईजी अभियान ने बताया कि राजधानी को दस जोन में बांटा गया है। प्रत्येक जोन की सुरक्षा की कमान डीएसपी संभालेंगे। दंडाधिकारी के साथ पर्याप्त संख्या में पुलिस बल तैनात रहेंगे। इसके साथ ही जोनल स्तर पर नियंत्रण कक्ष बनाकर पूरी स्थिति पर नजर रखी जाएगी। इतना ही नहीं, शहर के बड़े पूजा पंडालों में 11 अक्टूबर से सुबह-शाम मेटल डिटेक्टर से जांच पड़ताल की जाएगी।

%d bloggers like this: