अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

श्रावण मास में बाबाधाम में श्रद्धालुओं के प्रवेश पर रोक रहेगी जारी


देवघर:- झारखंड के देवघर स्थित विश्व प्रसिद्ध बाबा बैद्यनाथ धाम मंदिर में श्रावण मास में इस वर्ष भी श्रद्धालुओं के प्रवेश पर रोक जारी रहेगी। हालांकि पिछले साल अदालत के निर्देश पर सावन मास के अंतिम सप्ताह में सीमित संख्या में श्रद्धालुओं के प्रवेश की अनुमति दी गयी थी।
देवघर के उपायुक्त मंजूनाथ भजंत्री ने बताया कि कोरोना संक्रमण के रोकथाम और संभावित तीसरी लहर के साथ श्रद्धालुओं की स्वास्थ्य सुरक्षा को देखते हुए अन्य धार्मिक स्थलों के साथ-साथ बाबा मंदिर में भी श्रद्धालुओं के प्रवेश निषेध का निर्णय लिया गया है। इसके अलावा संक्रमण मुक्त वातावरण के अलावा बाबा मंदिर के आस-पास के क्षेत्रों में विधि व्यवस्था और सुरक्षा व्यवस्था को भी पुख्ता करने का निर्णय लिया गया है।
बाबा बैद्यनाथ धाम मंदिर में जलाभिषेक के लिए श्रावस मास में देवघर में किसी भी प्रकार के श्रद्धालुओं का जिले की सीमा में प्रवेश ना हो, इसे लेकर पांच स्थानों  अंधरीगादर, दर्दमारा, खोरीपानन, जयपुर मोड़ एव जमुआ को चिह्नित करते हूए चेक पोस्ट का निर्माण किया गया है। इसके अलावा वैसे जगह जहां से लोग जलार्पण के लिए देवघर आ सकते हैं उन जगहों को भी चिन्हित करते हुए ड्राप गेट का भी निर्माण कराया गया है।  इन सभी चेक पोस्ट पर दंडाधिकारी, पुलिस बल के साथ-साथ कोरोना जांच के लिए डॉक्टर्स एव स्वास्थ्यकर्मी की भी प्रतिनियुक्ति रहेगी। देवघर आने वाले लोगो का कोविड जांच किया जाएगा और रिपोर्ट के आधार पर जिन लोगो मे कोविड के लक्षण पाए जाएंगे सभी को जिला क्वारंटाइन सेंटर ले जाया जाएगा।
जिला प्रशासन द्वारा रेलवे के अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा गया कि “कोविड के गाइडलाइंस एव बाबा मंदिर में श्रद्धालुओं का जलार्पण पूर्णतः बंद है“ इस जानकारी का व्यापक प्रचार-प्रसार कराया जाय। साथ ही अन्य राज्यो के जिलों के स्टेशनों के अधिकारियों से संपर्क करते हुए उक्त बातों का प्रचार-प्रसार कराया जाय। 
शहर के अंदर एव मंदिर के आस-पास के क्षेत्रों में जगहों को चिन्हित कर बैरिकेटिंग भी कराया जाएगा, ताकि किसी भी परिस्थिति में मंदिर के क्षेत्रों में भीड़ इकठ्ठा ना होने पाए। 

%d bloggers like this: