अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

अस्पताल की पानी की टंकी में मरा हुआ चूहा और हड्डी मिलने से मचा हड़कंप, इसी से पीते थे पानी


गोरखपुर:- जिला महिला अस्पताल के एसएनसीयू वार्ड की बिल्डिंग के पानी की टंकी में हड्डी मिलने से पूरे जिले अस्पताल में हड़कंप मच गया। जांच करने पर पता चला कि इसमें छोटा जानवर या कोई चिड़िया मरी थी। दरअसल, इसमें महिला अस्पताल प्रशासन की लापरवाही देखने को मिली है। गौरतलब है कि पानी की टंकी हमेशा खुली रहती है, जिसकी वजह से जानवर एवं पक्षी इसे गंदा करते हैं और कई बार इसे में डूब कर मर भी जाते हैं। बड़ी बात यह है कि इस पानी का उपयोग पूरी बिल्डिंग में सैकड़ों लोगों द्वारा किया जाता है। इस टंकी के पानी से खाना बनाना, नहाना और दूरदराज से आए मरीज और उनके परिजन इसका उपयोग पीने के लिए भी कर लेते हैं। एक तरफ तो केंद्र व प्रदेश की सरकार स्वच्छ भारत मिशन के अंतर्गत अरबों रुपए साफ सफाई पर खर्च कर रही है। वहीं मुख्यमंत्री के गृह जनपद में जिला महिला अस्पताल में स्वच्छता मिशन का माखौल उड़ाया जा रहा है। हालांकि इसे अस्पताल के अधिकारी व कर्मचारी बहुत ही साधारण सी बात बता कर कन्नी काटने पर लगा है। इस संबंध में जब जिला महिला अस्पताल की कार्यवाहक अधीक्षक का मीना त्रिपाठी से बात करने की कोशिश की गई। उन्होंने मिलने से मना कर दिया इस बीच अस्पताल के क्वालिटी मैनेजर कमलेश ने बताया कि इसमें छोटा जानवर या कोई पक्षी मरा था, जिसे सफाई कर्मचारियों दौरा साफ कर दिया क्या है। हालांकि यह देखने को मिला कि क्वालिटी मैनेजर अस्पताल की क्वालिटी पर ध्यान नहीं दे रहे हैं और जब सफाई कर्मचारी से पूछा गया कि क्या आपने इस टंकी को ढक दिया है। उन्होंने कहा कि नहीं अभी ढक्कन नहीं खरीदा गया है। अब देखने वाली बात ये होगी कि अस्पताल प्रशासन इस ढक्कन को कब खरीदता है।

%d bloggers like this: