January 26, 2021

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

जिला स्तर से लेकर प्रखण्ड स्तर तक स्वास्थ्य सुरक्षा का हो बेहतर व्यवस्था : उपायुक्त

देवघर:- कोरोना के संक्रमण के बढ़ते प्रकोप को रोकने के उद्देश्य से उपायुक्त कमलेश्वर प्रसाद सिंह एवं पुलिस अधीक्षक श्री पीयूष पांडे की संयुक्त अध्यक्षता में समाहरणालय सभागार में समीक्षा बैठक आयोजित की गई। बैठक के दौरान उपायुक्त द्वारा जानकारी दी कि पिछले कुछ दिनों से देवघर के शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों में कोरोना संक्रमण के बढ़ते खतरे को देखते हुए डरने की वजाय सतर्क और सावधान रहने की जरूरत है। वर्तमान में कोरोना संक्रमण के मामले बढ़ने की वजह है कि जिला प्रशासन द्वारा जांच में तेजी लाई गई हैं; साथ ही कोरोना संक्रमित मरीज के संपर्क में आये व्यक्तियों के पहचान करने एवं उनके जांच में भी तेजी लाई गई है जिसका परिणाम है कि जिले में कोरोना संक्रमण के मामले में बढ़ोतरी हुई है।
इसके अलावे कोरोना संक्रमण के रोकथाम और बचाव को लेकर जिले में विशेष जांच अभियान भी चलाया जा रहा है, ऐसे में वैसे व्यक्ति जिनमे संक्रमण के लक्षण दिख रहे हैं उन सभी को जिलां प्रशासन एवं स्वास्थ्य विभाग के टीम के सहयोग से डेडिकेटेड कोविड हॉस्पिटल- कोविड केयर सेंटर ले जाया जा रहा है। जहाँ उनका बेहतर इलाज के साथ चिकित्सकों की टीम द्वारा विटामिन की गोली, काढा, मास्क, सैनिटाइजर, पी०पी०ई० किट आदि की व्यवस्था की गई है ताकि संक्रमित मरीजों की उचित देख भाल हो सके और संक्रमित मरीज जल्द स्वस्थ होकर अपने घर को जा सके।
समीक्षा बैठक के क्रम में उपायुक्त ने सिविल सर्जन को निदेशीत करते हुए कहा कि जिले के सभी कोविड केयर सेंटर, डेडिकेटेड कोविड हॉस्पिटल में डॉक्टर, ए०एन०एम० स्वास्थ्यकर्मी की प्रतिनियुक्ति की गई है सभी की सूची नाम एवं मोबाइल नंबर के साथ उपायुक्त कार्यालय में उपलब्ध कराए ताकि जरूरत पड़ने पर उनसे संपर्क करते हुए उचित दिशा निर्देश दिया जा सके। साथ ही उन्होंने सिविल सर्जन को स्पष्ट निर्देश देते हुए कहा कि जितने भी बाहर से आने वाले लोग हैं उन्हें होम क्वॉरेंटाइन में भेजा जाए एवं उनकी पूरी विवरणी मोबाइल नंबर के साथ संधारित रखें ताकि आवश्यकता पड़ने पर दोनों ओर से संपर्क साधा जा सके। उपायुक्त ने कहा कि जिले में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए जिले में नए कोविड केयर सेंटर, डेडिकेटेड कोविड हिस्पिटलों को चिन्हित किया जा रहा ताकि संक्रमित लोगो को बेहतर से बेहतर सुविधा दी जा सके। उपायुक्त ने यह भी निर्देशित किया कि कोविड केयर सेंटर में यदि किसी कोरोना मरीज की मृत्यु हो जाती है तो उनके अंतिम संस्कार की व्यवस्था जिला प्रशासन सुनिश्चित करेंगी। इसके लिए सभी प्रखंड क्षेत्रों में स्थान चिन्हित करने हेतु उपायुक्त ने संबंधित अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिया है।
इस दौरान उपायुक्त द्वारा जिले में कोरोना संक्रमण के तहत किये जा रहे कार्यो यथा- संक्रमित मरीज की जाँच, उनका इलाज, आईसोलेशन सेंटर व क्वारंटाइन सेंटर में रह रहे लोग एवं उन्हें दी जा रही सुविधा, संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आये लोगो की ट्रेसिंग एवं जिले में चल रहे कोरोना से संबंधित स्वास्थ्य जांच के अलावे स्वास्थ्य विभाग द्वारा किये जा रहे कार्यों की वास्तुस्थिति से अवगत हुए। साथ ही समीक्षा के क्रम में उपायुक्त ने सिविल सर्जन को निदेशित किया कि जिले में कोरोना जांच की संख्या में तेजी लाए साथ ही जांच रिपोर्ट को भी अपडेट रखें। वैसे व्यक्ति जी कोरोना संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आये हो उनको चिन्हित करते हूए सभी व्यक्तियों के जांच हेतु और अधिक टीम का गठन किया जाय ताकि जल्द से जल्द कोरोना संक्रमित मरीजों के संपर्क में आये व्यक्तियों को चिन्हित कर जांच किया जा सके।

Recent Posts

%d bloggers like this: