अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

केंद्र के सौतला व्यवहार से झारखंड में वैक्सीन की भारी कमी – बन्ना गुप्ता

रांची/नई दिल्ली:- झारखंड के स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता ने केंद्र सरकार पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि केंद्र सरकार झारखंड के साथ सौतेला व्यवहार कर रही है। जिस कारण राज्य में वैक्सीन की भारी कमी हो गई है। केंद्र सरकार की ओर से हमें वैक्सीन मुहैया नहीं कराई जा रही है। स्वास्थ्य मंत्री ने आरोप लगायाकि कोरोना संकट की घड़ी में झारखंड के साथ केंद्र सरकार गलत व्यवहार कर रही है जिसे राज्य की जनता कभी माफ नहीं करेगी।
नई दिल्ली प्रवास के दौरान पत्रकारों से बातचीत करते हुए बन्ना गुप्ता ने कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा था कि भारत वैक्सीन का हब बन गया है। बड़े पैमाने पर वैक्सीन दूसरे देशों को दी गई। लेकिन यहां अपने ही देश के राज्यों को वैक्सीन नहीं मिल रही है। यह तो ऊंट के मुंह में जीरा वाली बात हो गई। तीसरी लहर जल्द आने की आशंका है। और हमें वैक्सीन की बहुत ज्यादा जरूरत है। झारखंड में 18 साल से लेकर 45 साल की उम्र के करीब एक करोड़ 57 लाख लोग हैं। इन लोगों को वैक्सीन देना है। जब हमारे पास वैक्सीन रहेगी ही नहीं तो हम वैक्सीन अभियान कैसे चलाएंगे। मंत्री बन्ना गुप्ता ने कहा कि कोरोना की तीसरी लहर में सबसे ज्यादा प्रभावित 18 साल से कम वाले हो सकते हैं। इसलिए वैक्सीन हमें अगर नहीं मिली तो हम लोग बहुत बड़ी मुश्किल में फंस जाएंगे। उन्होंने कहा कि देश में वैक्सीन की काफी कमी है। इसलिए दोनों डोज के बीच में कभी 6 तो कभी 7, 16 हफ्ते का गैप दे दिया जाता है। आईसीएमआर के जरिए केंद्र सरकार अपनी नाकामी ढंकती है। मेरे पास जानकारी है कि वैज्ञानिक इस पक्ष में नहीं थे कि गैप को इतना बढ़ाया जाए। लेकिन वैक्सीन की कमी के कारण केंद्र सरकार के दबाव में आईसीएमआर बार-बार गाइडलाइन बदलती है।

%d bloggers like this: