अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

बदल गया है रेल कर्मचारियों के काम का तरीका, अब दो शिफ्टों में करनी होगी ड्यूटी

नई दिल्ली:- नौकरशाह-उद्यमी से नेता बने अश्विनी वैष्णव ने देश के नए रेल मंत्री के तौर पर कार्यभार संभाल लिया है। मंत्रालय संभालते ही उन्होंने कामकाज में बड़ा बदलाव किया है। रेल मंत्री ने स्टाफ को दो शिफ्ट में काम करने का आदेश दिया है। पहली शिफ्ट सुबह 7 बजे शुरू होगी और शाम 4 बजे खत्म होगी जबकि दूसरी शिफ्ट दोपहर 3 बजे शुरू होगी और मध्यरात्रि में 12 बजे तक चलेगी। रेल, संचार एवं इलेक्ट्रॉनिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री कार्यालय की ओर से जारी किए गए आदेश के अनुसार तत्काल प्रभाव से मंत्रालय के सभी स्टाफ दो शिफ्ट में काम करेंगे। इसके अलावा अश्विनी वैष्णव रेलवे की कमाई बढ़ाने के लिए भी कई कदम उठाने पर विचार विमर्श कर रहे हैं। रेल मंत्रालय के एडीजी पीआर डीजे नारायण के मुताबिक यह आदेश सिर्फ एमआर सेल (मंत्री कार्यालय) के लिए जारी किया गया है न कि प्राइवेट या रेलवे स्टाफ के लिए। भारतीय प्रशासनिक सेवा के 1994 बैच के पूर्व अधिकारी वैष्णव ने 15 वर्ष से अधिक समय तक महत्वपूर्ण जिम्मेदारियां संभालीं। वैष्णव को खासतौर से बुनियादी ढांचे में सार्वजनिक-निजी भागीदारी (पीपीपी) की रूपरेखा बनाने में उनके योगदान के लिए जाना जाता है जो उन्हें रेल क्षेत्र में भी मदद करेगा। उन्होंने जनरल इलेक्ट्रिक एंड सिमंस जैसी कई बड़ी वैश्विक कंपनियों में भी नेतृत्व भूमिकाएं निभायी हैं। वैष्णव ने पेन्सिलवेनिया विश्वविद्यालय के व्हार्टन स्कूल से एमबीए और भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी) कानपुर से एम.टेक किया है। उनके पास संचार और इलेक्ट्रॉनिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी के दो अन्य महत्वपूर्ण विभाग भी रहेंगे।

%d bloggers like this: