अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

पूर्वी चंपारण मे नदियों का जलस्तर बढा,कई इलाको मे बाढ़ ने फिर दी दस्तक


मोतिहारी:- जिले के साथ यहां बहनेवाली नदियों के जलग्रहण क्षेत्र नेपाल मे लगातार हो रही बारिश के कारण गंडक,बागमती,सिकरहना,लालबकेया समेत दर्जन भर नेपाली नदियो के जलस्तर मे काफी वृद्धि दर्ज की जा रही है। इस कारण बंजरिया,पताही,सुगौली और संग्रामपुर प्रखंडो के कई निचले इलाको मे पानी तेजी से फैलने लगा है। गत दो दिनो मे वाल्मीकीनगर बराज से क्रमश:2.12 लाख व 4.12 लाख पानी छोडे जाने के बाद चारो तरफ पानी ही पानी दिखने लगा है। निचले इलाकों से लोग तेजी से पलायन कर ऊंचे स्थान पर शरण लेने को मजबूर है। सिकरहना नदी जटवा व लालबेगिया मे,बागमती नदी देवापुर मे,लालबकेया नदी गुआबारी मे खतरे के निशान को पार कर गयी है। वहीं गंडक नदी के जलस्तर मे गुणात्मक वृद्धि होने से संग्रामपुर और पूछरिया मे खतरनाक स्थिति की ओर अग्रसर है।जिले मे बहनेवाली तिलावे,बंगरी,दुधौरा,मसाह और तीयर के साथ प्राय:सभी नेपाली नदियां उफना रही है। जिस कारण जिले कई प्रखंडो मे कही तीसरी बार तो कही चौथी बार बाढ ने दस्तक दे दिया है।
निचले इलाको मे रहनेवाले लोग माल मवेशी और परिवार के साथ ऊंचे स्थान पर शरण लेने लगे है। जिला प्रशासन ने बाढ संभावित सभी प्रखंडो के अधिकारियो को सतर्क रहने का निर्देश जारी किया है। बंजरिया प्रखंड चैलाहां से जटवा जानेवाली सडक पर पानी चढने से 10 पंचायतो का जिला मुख्यालय से सडक संपर्क भंग है।वही शिवहर से मोतिहारी,संग्रामपुर से पूछरिया जाने वाली सडको पर भी दो से चार फीट पानी बह रहा है।

%d bloggers like this: