अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

वायुसेना अधिकारी को न्याय नही मिलने तक संघर्ष रहेगा जारी: परशुराम समिति


मोतिहारी:- जिले में गत दिन हुए वायुसेना के अधिकारी आदित्य कुमार उर्फ आलोक तिवारी की हत्या के बाद राज्य और जिले भर से नेताओ-समाजसेवियो और बुद्धिजीवियों का उनके घर पहुंचने का सिलसिला जारी है।
आज इस क्रम में पूर्वी चंपारण जय परशुराम कल्याण समिति के सैकडों युवा एवं बुद्धिजीवियो का प्रतिनिधिमंडल उनके गांव पहुंचकर उनके पिता व परिजनों से भेंट किया। साथ ही कहा कि जब तक आलोक तिवारी को न्याय नही मिलता तब तक परशुराम कल्याण समिति का संघर्ष जारी रहेगा।
समिति के प्रतिनिधि मंडल में शामिल लोग ने घटना स्थल का भी निरीक्षण किया। प्रतिनिधि मंडल में शामिल आलोक शर्मा, संजय कुमार रमण प्रो.अखिलेश सिंह, विजय पांडेय, आलोक चंद्रा, एस.के पंकज, प्रणव सिंह, ब्रजकिशोर सिंह आदि ने कहा कि यह दुर्भाग्यपूर्ण घटना है कि देश के लिए लड़ने वाले सिपाही की हत्या शराबबंदी वाले राज्य में अवैध शराब के कारोबारियों द्धारा उनके गांव में ही कर दी जाती है और प्रशासन के द्धारा अबतक कोई बडा कदम नही उठाया जा सका है। सरकार या पुलिस प्रशासन स्वांग रचने में मशगुल है।
उन लोगो ने कहा कि अगर दोषियों की शीघ्र गिरफ्तारी कर स्पीडी ट्रायल के तहत कठोर दंड नही दिया, उनके परिवार बच्चे और बच्चियों को उचित मुआवजा के साथ सुरक्षा प्रदान नही किया जाता है, तो संगठन बडा आंदोलन करने को बाध्य होगी। बाद मे प्रतिनिमंडल मे शामिल सैकडो लोग स्व.तिवारी के अंत्येष्टि स्थल पर पहुंचकर प्रण लिया कि भिक्षाटन करके उनके याद मे एक तोरणद्धार व समाधि स्थल का निर्माण कराएंगे। इस मामले में एक और जानकारी मिली है, कि मोतिहारी के प्रसिद्ध अधिवक्ता नरेन्द्र देव ने वायुसेना अधिकारी हत्याकांड में संलिप्त दोषियों का केस लडने से इंकार कर दिया है।

%d bloggers like this: