फेड रिजर्व के ब्याज दर में बढ़ोतरी से गिरा बाजार

मुंबई:- महंगाई नियंत्रित करने के लिए अमेरिकी फेड रिजर्व के ब्याज दर में लगातार तीसरी बार 0.75 प्रतिशत की बढ़ोतरी से वैश्विक बाजार में आई गिरावट के दबाव में स्थानीय स्तर पर हुई बिकवाली से आज सेंसेक्स और निफ्टी लगातार दूसरे दिन भी गिर गए।

बैंकिंग, वित्तीस सेवाएं, ऊर्जा और धातु समेत नौ समूहों में हुई बिकवाली से बीएसई का तीस शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 337.06 अंक यानी 0.57 प्रतिशत लुढ़ककर 59119.72 अंक और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का निफ्टी 88.55 अंक अर्थात 0.5 प्रतिशत उतरकर 17629.80 अंक पर रहा। हालांकि मझौली और छोटी कंपनियाें में हुई लिवाली ने बाजार को और अधिक गिरने से थाम लिया। बीएसई का मिडकैप 0.32 प्रतिशत बढ़कर 25,859.88 अंक और स्मॉलकैप 0.47 प्रतिशत की तेजी लेकर 29,377.35 अंक पर पहुंच गया।

इस दौरान बीएसई में कुल 3589 कंपनियों के शेयरों में कारोबार हुआ, जिनमें से 1817 में लिवाली जबकि 1626 में बिकवाली हुई वहीं 146 स्थिर रहे। इसी तरह एनएसई में 28 कंपनियाें में गिरावट जबकि शेष 22 में तेजी रही।

अमेरिकी केंद्रीय बैंक फेडरल रिजर्व की ओपेन मार्केट कमेटी (एफओएमसी) ने ब्याज दर में लगातार तीसरी बार 0.75 प्रतिशत की बढ़ोतरी कर दी है। साथ ही उसने अमेरिका में 40 साल के उच्चतम स्तर पर पहुंचाई को काबू करने के लिए अगली बैठक में भी ब्याज दर में वृद्धि करने करने का संकेत दिया है। इससे अंतर्राष्ट्रीय बाजारों में गिरावट का रुख रहा। ब्रिटेन का एफटीएसई 0.34, जर्मनी का डैक्स 0.60, जापान का निक्केई 0.58, हांगकांग का हैंगसेंग 1.61 और चीन का शंघाई कंपोजिट 0.27 प्रतिशत उतर गया।

इसके दबाव में बीएसई के नौ समूहों में बिकवाली का दबाव रहा। बैंकिंग , वित्तीय सेवाएं 1.22, ऊर्जा 0.42, हेल्थकेयर 0.22, आईटी 0.03, धातु 0.32, तेल एवं गैस 0.24, रियल्टी 0.34 और टेक समूह के शेयर 0.12 प्रतिशत टूट गए।

शुरुआती कारोबार में सेंसेक्स 383 अंक की गिरावट लेकर 59,073.84 अंक पर खुला और बिकवाली के दबाव में दोपहर बाद 58,832.78 अंक के निचले स्तर तक लुढ़क गया। इसके बाद हुई लिवाली से यह 59,457.58 अंक के उच्चतम स्तर पर पहुंच गया लेकिन फिर बिकवाली होने से अंत में यह पिछले दिवस के 59,456.78 अंक के मुकाबले 0.57 प्रतिशत उतरकर 59,119.72 अंक पर रहा। निफ्टी भी 109 अंक की गिरावट लेकर 17,609.65 अंक पर खुला। वह 17,532.45 अंक के निचले जबकि 17,722.75 अंक के ऊंचे स्तर पर भी रहा। अंत में पिछले सत्र के 17,718.35 अंक की तुलना में 0.50 प्रतिशत टूटकर 17,629.80 अंक पर रहा।

इस दौरान सेंसेक्स की नुकसान उठाने वाली कंपनियों में पावरग्रिड 2.80, एचडीएफसी बैंक 2.18, एक्सिस बैंक 2.09, एचडीएफसी 1.69, बजाज फिनसर्व 1.67, आईसीआईसीआई बैंक 1.37, अल्ट्रासिमको 1.24, कोटक बैंक 1.07, रिलायंस 0.93, टेक महिंद्रा 0.85, टाटा स्टील 0.81, विप्रो 0.71, इंडसइंड बैंक 0.68, इंफोसिस 0.64, एलटी 0.44, एसबीआई 0.42, एचसीएल टेक 0.36 और नेस्ले इंडिया 0.17 प्रतिशत शामिल है।

वहीं, टाइटन 2.73, हिंदुस्तान यूनीलीवर 2.64, एशियन पेंट 2.51, मारुति 1.68, आईटीसी 1.19, डॉ. रेड्डी 0.74, सन फार्मा 0.49, भारती एयरटेल 0.49, बजाज फाइनेंस 0.42, महिंद्रा एंड महिंद्रा 0.29 और टीसीएस 0.19 प्रतिशत के लाभ में रही।

Leave a Reply

%d bloggers like this: