अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

लैंड बैंक के लिए ली गयी जमीन को गरीबों को वापस कराया जाएगा : आरपीएन सिंह


कांग्रेस विधायक दल की हुई बैठक में लिया गया निर्णय
रांची:- झारखंड कांग्रेस ने पूर्ववर्ती रघुवर दास शासन में लैंड बैंक के लिए ली गयी जमीन को गरीबों को वापस कराने का निर्णय लिया है। मॉनसून सत्र की पूर्व संध्या पर कांग्रेस विधायक दल की हुई बैठक में इस आशय का निर्णय लिया गया। रांची में गुरुवार को कांग्रेस विधायक दल के नेता सह राज्य के ग्रामीण विकास मंत्री आलमगीर आलम की अध्यक्षता में हुई बैठक में पार्टी के प्रदेश प्रभारी आरपीएन सिंह और प्रदेश अध्यक्ष राजेश ठाकुर विशेष रूप से मौजूद थे।
कांग्रेस प्रभारी आरपीएन सिंह ने बताया कि पूर्ववर्ती बीजेपी सरकार ने अपने पूंजीपति मित्रों को देने के लिए गरीबों की जमीन को छीन लैंड बैंक बनाया था। उन्होंने बताया कि उस जमीन को गरीबों को वापस दिलाने का संकल्प लिया है और जिन गरीबों की जमीन छीनी गयी थी, उसे वापस दिलाने की दिशा में पहल करने का निर्णय लिया है। आरपीएन सिंह ने बताया कि पार्टी की घोषणा पत्र में पिछड़ी जातियों को सरकारी नौकरियों और शिक्षण संस्थानों में 27 प्रतिशत आरक्षण दिलाने का वायदा किया गया था, पार्टी इसे लागू करने वाले के लिए प्रतिबद्ध है।
कांग्रेस प्रभारी ने बताया कि नियोजन नीति को लेकर पार्टी के कुछ विधायकों ने अपनी बात रखी है, इस संबंध में प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष और विधायक दल के नेता मुख्यमंत्री से चर्चा कर सुधार लाने की बात करेंगे। पिछले 19 महीनों में राज्य में गठबंधन सरकार के कार्या का जिक्र करते हुए आरपीएन सिंह ने कहा कि वायदे के अनुरूप किसानों का ऋण माफ किया गया, 15 लाख लोगों के बीच ग्रीन राशन कार्ड का वितरण किया गया, कुछ स्थानों पर जमीन भी वापस की गयी। जबकि कोविड-19 संक्रमण काल में लोगों की जान और जीविका बचाने की दिशा में सरकार ने बेहतरीन कार्य किया। लोगों की जिंदगी बचाना सरकार का पहला कर्त्तव्य था और पूरे देश में इस मामले में झारखंड तीसरे नंबर पर रहा। जबकि ग्रामीण क्षेत्र में रोजगार देने के मामले में झारखंड पहले नंबर पर रहा और 10 रुपये में धोती-लूंगी और साड़ी का वितरण किया जा रहा है।
इस मौके पर कांग्रेस विधायक दल के नेता आलमगीर आलम, वित्तमंत्री डॉ0 रामेश्वर उरांव और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष राजेश ठाकुर भी मौजूद थे।

%d bloggers like this: