अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

प्रस्तावित चतरा मंडल कारा भवन निर्माण स्थल चयन का भू-रैयतों ने जताया विरोध


श्रम मंत्री ने दिया आश्वासन, कहा-अन्यत्र होगा मंडल कारा के भव्य भवन का निर्माण
चतरा:- चतरा जिला प्रशासन द्वारा मंडल कारा के नए भवन निर्माण को ले किशुनपुर इलाके में किए गए भूमि चयन का विरोध अब तेज हो गया है। स्थानीय भू-रैयत और ग्रामीण मंडल कारा निर्माण के विरोध में आंदोलन के मूड में आ चुके हैं। भू-रैयतों व ग्रामीणों ने तीन दिवसीय दौरे पर चतरा पहुंचे श्रम, नियोजन, प्रशिक्षण व कौशल विकास मंत्री सत्यानंद भोक्ता का घेराव किया। किशुनपुर मोहल्ले के दौरे पर पहुंचे मंत्री के समक्ष ग्रामीणों ने जिला प्रशासन द्वारा जेल निर्माण को ले चयनित भूमि को तत्काल प्रभाव से निरस्त कराते हुए अन्यत्र भूमि चयन कराने की गुहार लगाई है।
ग्रामीणों ने कहा है कि किशुनपुर मौजा में जिला प्रशासन द्वारा चयनित की गई भूमि में ज्यादातर जमीन रैयती किस्म का है। ऐसे में भवन निर्माण से पूर्व ना सिर्फ सरकार को जमीन मालिकों को भारी-भरकम मुआवजा देना पड़ेगा, बल्कि जमीन अधिग्रहित होने के बाद दूर-दराज इलाकों से अपने बच्चों को पढ़ाने के नियत से शहर में बसने वाले लोगों को पुनः पलायन होने पर विवश होना पड़ेगा। ग्रामीणों ने मंत्री से जीएम लैंड की भूमि चयनित कराने की मांग की है। कहा है कि किसी भी परिस्थिति में किशनपुर में नए जेल के भवन का निर्माण नहीं होने देंगे। क्योंकि यहां अगर जेल बनेगा तो स्थानीय लोगों को भारी परेशानियों से गुजरना पड़ेगा।
इधर श्रम मंत्री सत्यानंद भोक्ता ने लोगों को आश्वस्त करते हुए कहा कि चतरा में मॉडल जेल बनेगा, लेकिन किशुनपुर में नहीं बनेगा। जेल निर्माण को लेकर जिला प्रशासन को जल्द ही दूसरी भूमि चयन करने को ले निर्देश जारी कर दिया जाएगा। मंत्री ने कहा कि ग्रामीणों को किसी भी परिस्थिति में पलायन नहीं करने दिया जाएगा।

%d bloggers like this: