अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

गृह प्रखंड में वर्षों से जमे पंचायत सचिव पर योजनाओं के संचालन में गडबडी का आरोप


मोतिहारी:- सरकार और प्रशासन चाहे लाख दावे करे। लेकिन जिले मे भष्ट्राचार अनियमितता और मनमानी की खबरे रोज सामने आ रही है।ऐसा ही एक मामला जिले के बंजरिया प्रखंड से सामने आया है। जहां एक पंचायत सचिव भीम राय जो वर्षों से अपने गृह प्रखंड मे पदस्थापित ही नही है बल्कि वो तीन तीन पंचायतो के सचिव के प्रभार लेकर सरकारी योजनाओं को मनमाने तरीके से संचालित कर रहे है।
इस बात की जानकारी प्रखंड के जनप्रतिनिधियो से लेकर अधिकारियो तक को होने के बाबजूद भनक तक नही लगी। लेकिन इसका भांडा तब फूटा है जब ग्रामीणों ने उक्त पंचायत सचिव का विरोध जताते हुए ग्रामीणो ने इसकी शिकायत उच्च पदाधिकारियों से की है। यहां उल्लेखनीय है कि पंचायत सचिव तीन पंचायत अजगरी,चैलाहां व रोहिनिया पंचायत के साथ प्रखंड के लगभग 60 प्रतिशत से ज्यादा विकास योजनाओ के अभिकर्त्ता है।
ग्रामीणो ने शिकायत करते हुए कहा है कि सचिव विकास योजनाओ को लूट खसोट का जरिया बना लिया है। हालांकि इस संबंध में पूछे जाने पर बीडीओ सुनील कुमार गौड ने कहा कि पहले से इस बात की जानकारी उन्हें नहीं थी। शिकायत के बाद इस मामले मे वरीय अधिकारियों से मार्ग दर्शन मांगा गया है।मिली जानकारी के अनुसार उक्त पंचायत सचिव भीम राय का घर बंजरिया प्रखंड के सेमरा पंचायत अंतर्गत वार्ड नंबर 6 पांडेय टोला में है।
नियमानुसार किसी भी कर्मी का अपने गृह प्रखंड में पदस्थापित होना नियम विरुद्ध है। यही नहीं अगर पदस्थापित भी है तो संबंधित पंचायत के अलावा दूसरे पंचायत व प्रखंड की योजनाओं का संचालन नही कर सकता। जबकि वे प्रखंड योजना के तहत अपने गृह पंचायत सेमरा में भी अभिकर्ता है। ग्रामीणो के शिकायत के बाद यह मामला पूरे जिले मे चर्चा का विषय बना है। अब देखना गौरतलब होगा कि इस मामले पर जिला प्रशासन क्या कारवाई करता है?

%d bloggers like this: