अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

जेपीएससी का शव यात्रा निकालकर अंतिम संस्कार किया जायेगा


रांची:- झारखंड स्टेट स्टूडेंट्स यूनियन के बैनर तले जेपीएससी में हो रही भ्रष्टाचार के विरुद्ध राजभवन के समक्ष 50 वें दिन आंदोलन जारी है।
मौके पर जेएसएसयू के अध्यक्ष देवेन्द्र नाथ महतो महासचिव मनोज यादव ने कहा कि वर्तमान हेमंत सरकार जेपीएससी को क्लीन करने का नाम से सत्ता में बैठकर जेपीएससी का रखवाला ही जेपीएससी को मरा दिया, इसीलिए जेपीएससी का आत्मा का शांति को लेकर राजभवन से हरमू मुक्ति धाम तक जेपीएससी शव यात्रा निकालकर हरमू नदी में अंतिम संस्कार कर दिया जायेगा,
मौके अध्यक्ष देवेंद्र नाथ महतो महासचिव मनोज यादव ने सदन के अंदर जेपीएससी के मामले पर मुख्यमंत्री का बयान जेपीएससी आंदोलन को भाजपा प्रायोजित, बाहरी, भाड़े वाले, बोलकर तो झूठा मुकदमा करके, कभी बेगुनाह छात्रों पर लाठीचार्ज करके, तो कभी झूठा मुकदमा करके आन्दोलन को कमजोर करके जेपीएससी के सभी सीटों को बेचना चाहती है ऐसा नहीं होने दिया जायेगा, जेपीएससी में भारी भ्रष्टाचार किया गया है, करोड़ों रुपए में सीट बेचा जा रहा है, जब आंदोलन का दबाव पड़ा तो ओ एम आर गुम होने का बहाना बना रही है, संवैधानिक संस्था पर ओ एम आर गुम बहुत बड़ा क्राइम है फिर भी सरकार द्वारा करवाई करने के बजाय आंदोलनकारियों पर सवाल खड़ा कर रहे हैं ये राज्य के शर्मनाक बात है, जेपीएससी रद्द होने तक संघर्ष जारी रहेगा ।
साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि अगर जेपीएससी सही है तो परीक्षाफल के 50 दिन बीतने के बावजूद पब्लिक डोमेन में ओ एम आर अपलोड क्यों नहीं किया जा रहा है, और अगर सरकार सही है तो फिर जेपीएससी पर जांच कराकर करवाई क्यों नहीं कर रही है, सरकार जेपीएससी पर कार्रवाई करने के बजाय जाति, धर्म, बाहरी भीतरी का कार्ड खेल रही है। दो वर्षो तक एक स्थानीय नीति नहीं बना सके और बाहरी भीतरी जाति धर्म का कार्ड खेल रहें है,आज जेपीएससी आंदोलनकारी झारखंड का पहचान अपना खतियान दिखा रहें रहें है सरकार अपना अधिकारी कर्मचारी से जांच कराए और ये भी जांच कराकर बताया जाय कि वर्तमान सरकार में बनाया गया कि जेपीएससी जेपीएसएससी के अध्यक्ष सचिव और सदस्य कहां के रहने वाले हैं? और सभी का झारखंडी का पहचान खतियान भी सार्वजनिक किया जाय।

%d bloggers like this: