January 23, 2021

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

सरकारी योजनाओं के सरजमीन पर साकार होने का सुखद एहसास दिला रहा जिला प्रशासन

बक्सर:- इन दिनों सरकारी योजनाओं का धरातल पर साकार होना लोगोंं को एक सुखद एहसास दिलाने लगा है ।जिला प्रशासन के साथ स्थानीय लोगोंं का कदमताल विभिन्य योजनाओं के क्रियान्वयन में एक मानक स्थापित कर रही है।

बात अगर जल जीवन हरियाली की करेंं तो मनरेगा के तहत पौधरोपण का लक्ष्य 01 लाख 94 पौधों का था पर लक्ष्य से आगे निकलते हुए जिले में अबतक तीन लाख से भी अधिक पौधे लगाये जा चुके हैंं। किसान निजी जमीन पर एक यूनिट (दो सौ पौधे ) तन्मयता से लगा रहे हैंं जिला प्रशासन के अधिकारी भी गांव -गाँव घूम कर निजी जमीन पर पौधे लगाने वाले किसानोंं को तमाम सुबिधाएं मुहैया करा रहे हैंं।इस बाबत जिला उप विकास आयुक्त अरविन्द कुमार ने बताया कि जिले में पौध रोपण का कार्य लक्ष्य से अधिक किया जा रहा है ।

जल संचय की दिशा में भी बक्सर अगले पादान पर खड़ा है ।जिले में कुल पोखरों की संख्या 574 है जिनमेंं 460 पोखरे की जल भंडारण क्षमता बढ़ाते हुए उनका जीर्णोद्धार पूरा कर लिया गया है जबकि शेष बचे पोखरों पर काम जल्द ही पूरा कर लिया जाएगा। जिले में कुल आहरोंं की संख्या 579 में से नब्बे फीसदी आहरोंं का काम पूरा हो चुका है ।इसीतरह पीएचडी विभाग द्वारा जिले में लगाये गये 15 हजार 290 चापाकलों के पास सोखता बनाया जा रहा है
लोहिया स्वच्छता मिशन के तहत जिला प्रशासन प्रत्येक पंचायत में चार समुदायिक शौचालयों का निर्माण करा रहा है ।इस संदर्भ में उप विकास आयुक्त ने बताया कि जो व्यक्ति आर्थिक रूप से कमजोर है उन्हें तत्काल आठ हजार रुपये की राशि उपलब्ध कराई जा रही है ।वहींं भूमिहीनों की संख्या को देखते हुए पंचायतोंं में समुदायिक शौचालय बनाये जा रहे हैंं
उप विकास आयुक्त अरविन्द कुमार ने बताया की इन दिनों करोना को लेकर बाहर से आये प्रवासी मजदूरों को स्थानीय स्तर पर ही रोजगार मुहैया कराने के लिए जिला प्रशासन कटिबद्ध है । जिला निबंधन एवं परामर्श केंद्र की बैठक के बाद निर्णय लिया गया कि रोजगार विहीन श्रमिकोंं को जीविकोपार्जन के अवसर प्रदान करने के लिए क्लस्टर के माध्यम से रोजगार के अवसर का सृजन किया जाएगा। इस संदर्भ में गांवोंं का सर्वे कर जिला निबंधन विभाग प्रवासी कामगरोंं को सूचिबद्ध करेगा। जिला प्रशासन के अधिकारियों ने बताया की बक्सर, यूपी का सीमावर्ती क्षेत्र है जहांं मजदूरी के लिए प्रतिदिन सैकड़ोंं की संख्या में यूपी के मजदूर आते हैं। बावजूद इसके जिले में रोजगार के अवसर पैदा कर श्रमिकोंं के जीविकोपार्जन की दिशा में बक्सर की स्थिति बेहतर है ।

Recent Posts

%d bloggers like this: