April 15, 2021

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

विधानसभा में तेजस्वी का नीतीश सरकार पर बड़ा हमला

-कहा, पेपरबाजी और जुमलेबाजी पर चल रही सरकार -कानून व्यवस्था पर भी घेरा, कहा- एनडीए के शासन काल में दोगुना हुए अपराध

पटना:- बिहार विधानमंडल में बजट सत्र के आज पांचवें दिन विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने नीतीश सरकार पर जोरदार प्रहार किया। तेजस्वी ने कहा कि नीतीश सरकार के पास युवाओं को 20 लाख रोजगार देने का ना कोई रोडमैप है, ना ही विज़न। बजट में फूड प्रोसेसिंग का उल्लेख तक नहीं किया गया है। उन्होंने कहा कि हवा हवाई पेपरबाजी और जुमलेबाजी पर चल रही बिहार सरकार बस सब्ज़बाग दिखाना जानती है। उसे अमलीजामा पहनाने की ना उनके पास योग्यता है और ना ही इच्छाशक्ति। तेजस्वी यादव ने गत वित्त वर्ष 2020-21 के कुल खर्च का मुद्दा उठाते हुए कहा कि सरकार महज 70 हजार करोड़ ही खर्च कर पाई है। बचे पैसे को एक महीने में खर्च करने की तैयारी है, जिसकी चर्चा ‘मार्च लूट’ के रूप में सीएम नीतीश के अधिकारियों के बीच चल रही है। तेजस्वी यादव ने सीतामढ़ी जिले में शराब तस्करों द्वारा दरोगा की हत्या की घटना का जिक्र करते हुए कहा कि बिहार में कानून-व्यवस्था पूरी तरह से भगवान भरोसे है। यही कारण है कि दारोगा हो या पुलिसकर्मी, उसे सरेआम गोली मार दी जाती है। उन्होंने कहा कि यहां समीक्षा बैठक नहीं होती बल्कि भिक्षा बैठक होती है। विधानसभा में भाकपा-माले विधायक के साथ हुई धक्का-मुक्की की घटना की निंदा करते हुए तेजस्वी यादव ने कहा कि विधानसभा में जनप्रतिनिधियों के साथ धक्का-मुक्की की जा रही है। ऐसा न तो पहले हमने कभी देखा था और न ही सुना है।उन्होंने कहा कि मेरे आवास पर भी इस इंस्पेक्टर ने कुछ ऐसा ही बर्ताव किया था। विधानसभा अध्यक्ष ने वीडियो फुटेज देखकर कार्रवाई की बात कही है। तेजस्वी यादव ने इससे पहले विधानसभा के पहले सत्र में राजगनीत नीतीश सरकार पर प्रहार करते हुए दावा किया कि लालू प्रसाद के 15 साल के शासन की तुलना में राजग के कार्यकाल में अपराध दोगुना हो गया है। राज्यपाल फागू चौहान के अभिभाषण पर पेश धन्यवाद प्रस्ताव पर हुई चर्चा में हिस्सा लेते हुए तेजस्वी यादव ने यह दावा किया। तेजस्वी ने कहा कि लालू प्रसाद ने जब सत्ता छोड़ी उस समय प्रदेश में संज्ञेय अपराधों की संख्या 97,850 थी, जो राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन के शासनकाल के दौरान (वर्ष 2018 में) बढ़कर 1,96,911 हो गई। इस प्रकार संज्ञेय अपराधों की संख्या में 101.2 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई। उन्होंने कहा कि लालू प्रसाद के शासन को ‘जंगल राज’ के रूप में प्रचारित किया गया पर आंकड़े स्पष्ट रूप से दर्शाते हैं कि किसका शासन ‘जंगल राज’ रहा। वर्ष 2015 के बिहार विधानसभा चुनाव में नीतीश कुमार द्वारा भाजपा का नामांकरण ‘बड़का झुठ्ठा पार्टी’ (बड़ी झूठी पार्टी) किए जाने को याद करते हुए तेजस्वी ने कटाक्ष किया कि वे अब भाजपा की ‘स्टेपनी, कठपुतली’ बन गए हैं और उस दल की ‘अनुकम्पा’ पर मुख्यमंत्री बने हैं।

Recent Posts

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
%d bloggers like this: