January 21, 2021

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

टीम इंडिया कड़े प्रतिबंधों के साथ ब्रिस्बेन जाने को तैयार नहीं

मेलबोर्न:- भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ ब्रिस्बेन में होने वाले चौथे और अंतिम टेस्ट मैच के लिए कड़े प्रतिबंधों के साथ वहां जाने के लिए तैयार नहीं है। क्विंसलैंड में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए ऐसा माना जा रहा है कि टीम को कठिन लॉकडाउन में रहना पड़ सकता है जिसमें उनकी यात्रा होटल से स्टेडियम तक की गतिवधियां सीमित की जा सकती हैं। टीम इंडिया ने दौरे की शुरुआत से ही यह साफ किया था कि टीम 14 दिनों के जरुरी क्वारेंटीन अवधि को पूरा करने के बाद किसी बंधन में नहीं रहेगी। लेकिन ब्रिस्बेन में उनकी गतिविधियां सीमित करने की संभावना के बीच टीम सिडनी में ही रहना पसंद करेगी। टीम इंडिया के एक सूत्र ने क्रिकबज से कहा, “अगर आप देखें तो टीम ऑस्ट्रेलिया आने से पहले दुबई में 14 दिन तक क्वारेंटीन में रही और यहां पहुंचने के बाद भी 14 दिनों की क्वारेंटीन अवधि को पूरा किया। इसका मतलब है कि टीम करीब एक महीने तक जैव सुरक्षा प्रोटोकॉल में रही। लेकिन अब टीम दौरे के अंत में क्वारेंटीन नहीं रहना चाहती है।” अधिकारी ने बताया कि टीम ने क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया और विभिन्न राज्य सरकारों के प्रोटोकॉल का पूरी तरह पालन किया और उनके साथ हरसंभव सहयोग किया। लेकिन अब टीम किसी भी प्रकार के प्रतिबंध में नहीं रहना चाहती और ऐसा होने पर वह आखिरी के दो टेस्ट एक ही स्थल पर खेलने के लिए तैयार है। सूत्र ने कहा, “अगर टीम को एक बार फिर होटल में ही रहने पर मजबूर किया जाता है तो टीम ब्रिस्बेन नहीं जाना चाहती। हम ऐसी स्थिति में एक ही मैदान पर आखिर के दोनों टेस्ट मैच खेल सीरीज पूरी करने के लिए तैयार हैं।” उल्लेखनीय है कि टीम इंडिया फिलहाल मेलबोर्न में है और वह तीसरे टेस्ट के लिए सोमवार को सिडनी रवाना होगी। सिडनी पहुंचने के बाद टीम दो दिनों तक ट्रेनिंग करेगी इसके बाद दोनों टीमों के बीच गुरुवार से मुकाबला खेला जाएगा। न्यू साउथ वेल्स में शनिवार को कोरोना के सात नए मामले सामने आए हैं और इसको देखते हुए सार्वजनिक स्थलों में मास्क पहनना अनिवार्य कर दिया गया है। ऐसी स्थिति को देखते हुए पिछले कुछ दिनों से दक्षिण ऑस्ट्रेलिया और विक्टोरिय़ा राज्य ने न्यू साउथ वेल्स के लिए सीमा को बंद करने का फैसला किया है।

सूत्र ने कहा, “हमें अच्छे से पता है कि मौजूदा स्थिति क्या है। क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया और हम जैव सुरक्षा के तहत सभी प्रोटोकॉल का पालन कर रहे हैं। लेकिन हम चाहते हैं कि हमें भी अन्य ऑस्ट्रेलियाई लोगों की तरह देखा जाए और क्वारेंटीन पीरियड पूरा करने के बाद किसी तरह का प्रतिबंध नहीं लगाया जाए।”
गौरतलब है कि हाल ही में ऐसी रिपोर्ट आयी थी कि भारतीय टीम के पांच खिलाड़ियों ने कथित रुप से प्रोटोकॉल का उल्लंघन कर एक इंडोर रेस्टोरेंट में खाना खाया था जिसके बाद क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर बताया था कि इस मामले की जांच की जाएगी कि इन खिलाड़ियों ने प्रोटोकॉल का उल्लंघन किया है कि नहीं। हालांकि एहतियातन रोहित शर्मा, शुभमन गिल, पृथ्वी शॉ, रिषभ पंत और नवदीप सैनी को आइसोलेशन में रखा गया है।
सूत्र ने कहा, “हमारे खिलाड़ी पिछले छह महीनों से जैविक सुरक्षा में ही रह रहे थे और यह किसी के लिए भी आसान नहीं है। अगर आप गौर करें तो हम ऐसी टीम हैं जिसे लॉकडाउन के बाद अंतरराष्ट्रीय दौरे में कोई परेशानी नहीं हुई है। लेकिन अब हम एक और कठिन प्रोटोकॉल में नहीं जाना चाहते जैसा ब्रिस्बेन में किया जा सकता है।”
भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच चार टेस्ट मैचों की सीरीज फिलहाल 1-1 से बराबर है और दोनों टीमें गुरुवार से सिडनी में तीसरा मुकाबला खेलने उतरेंगी।

Recent Posts

%d bloggers like this: