अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

नौकरी स्थायी करने की मांग को लेकर शिक्षकों ने किया मंत्री आवास का घेराव

गैर अनुसूचित 11 जिलों के शिक्षक जुटे मिथिलेश ठाकुर के आवास के बाहर

रांची:- नौकरी बहाल करने की मांग को लेकर सैकड़ों शिक्षकों ने आज पेयजल और स्वच्छता मंत्री मिथिलेश ठाकुर के घर के समक्ष प्रदर्शन किया। हाई स्कूल के इतिहास नागरिक के अनुशंसित अभियर्थियों ने अपने हाथों में मांगों से संबंधित तख्तियां लिये हुए थे। शिक्षकों का कहना है कि वे शिक्षक के रूप में पढ़ाने का काम कर रहे हैं। लेकिन राज्य सरकार की ओर से हमलोगों की सेवा स्थायी नहीं की जा रही है। सुप्रीम कोर्ट में केस चलने का हवाला देकर सरकार हमारी नियुक्ति को रोक रही है। शिक्षकों ने कहा कि सोनी कुमारी द्वारा सुप्रीम कोर्ट में किए गए केस में आदेश पारित हो चुका है। कि गैर अनुसूचित जिलों में बहाली की जा सकती है। इसके बावजूद सरकार और उनके प्रतिनिधि सुप्रीम कोर्ट में केस का हवाला देकर हमारी सेवा स्थायी नहीं कर रही है। प्रदर्शन कर रहे शिक्षकों का कहना है कि हमलोगों का मंत्री मिथिलेश ठाकुर से बात हुई थी। उन्होंने भरोसा दिलाया था कि गैर अनुसूचित जिलों के शिक्षकों की सेवा जल्द ही बहाल की जाएगी। लेकिन आज छह माह गुजर जाने के बाद भी इस मामलें पर कोई कार्रवाई नहीं हुई। जिस कारण राज्य भर से शिक्षक आज रांची में जमा हुए और पुराना
आश्वासन को याद दिलाने के लिए मंत्री के आवास के बाहर प्रदर्शन किए। इससे पहले डोरंडा पुलिस ने प्रदर्शन कर रहे लोगों को रोकने की कोशिश की। पुलिस का कहना था कि बिना अनुमति के प्रदर्शन नहीं किया जा सकता है। इसके बाद शिक्षकों के साथ कहासुनी हुई। लेकिन, शिक्षक अपनी मांगों को लेकर डटे रहे। शिक्षकों का कहना कि जब तक हमारी मांगें पूरी नहीं होगी। हमारा संघर्ष जारी रहेगा।

%d bloggers like this: