May 8, 2021

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

पत्नी, दो बच्चों व ट्यूशन टीचर की हत्या कर घर से फरार हुआ टाटा स्टील कर्मी

जमशेदपुर:- पूर्वी सिंहभूम जिला मुख्यालय जमशेदपुर के कदमा थाना क्षेत्र अंतर्गत बल्दवीन स्कूल के निकट र्क्वाटर में रहने वाले टाटा स्टील के एक कर्मचारी ने अपनी पत्नी, दो बच्चों और उन्हें पढ़ाने वाले एक टीचर को मौत के घाट उतार दिया। घटना को अंजाम देने के बाद आरोपी टाटा स्टील कर्मी मौके से फरार हो गया। घटना के बाद से आरोपी कर्मी का मोबाइल फोन और फेसबुक एकाउंट लॉक बता रहा है।
घटना के संबंध में मिली जानकारी के अनुसार टाटा स्टील के फायर बिग्रेड कर्मचारी दीपक कुमार ने अपनी पत्नी, दो बच्चों और बच्चों को ट्यूशन पढ़ाने वाली टीचर रिंकी कुमारी को भी जान से मार डाला। बताया गया है कि दीपक कुमार ने चारों का गला काट कर हत्या कर दी और फिर घर को बाहर से लॉक कर से भाग निकला। आसपास के लोगों को इसकी जानकारी तब मिली, जब खून के छींटे र्क्वाटर के बाहर निकलने लगा। अचानक घर से खून निकलता देख आसपास के लोगों ने घर के अंदर देखा, तो खौफनाक दृश्य देखकर सभी दहल गये।
घटना की जानकारी मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने शवों को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है और पूरे र्क्वाटर को सील कर दिया है। आसपास के लोग घटना को लेकर तरह-तरह की चर्चा कर रहे है, कुछ लोग इसे अवैध संबंध के कारण उठाया गया कदम बता रहे है।
बताया गया है कि उसकी दो बेटियां एक सात साल और दूसरी 3 साल की थी और वह वार्ल्डविन स्कूल में पढ़ती थी। इन दोनों को पिंकी कुमारी नामक महिला ट्यूशन पढ़ाती थी। आसपास के लोगों का कहना है कि पत्नी को किसी बात को लेकर संशय था, वह उस ट्यूशन टीचर को घर में आने देना नहीं चाहती थी,जबकि पति की जिद थी कि बेटियां अगर ट्यूशन पढ़ेंगी,तो उसी से। ऐसी आशंका व्यक्त की जा रही है कि इसी विवाद में दीपक ने एक साथ गला रेत कर सभी की हत्या कर दी। आज वह ड्यूटी भी नहीं गया था।पत्नी और दोनों बच्ची की लाश एक कमरे में पड़ी थी, दूसरे कमरे में ट्यूशन टीचर की लाश पंलग के अंदर बॉक्स में रख हुआ था।
दीपक कुमार का ससुराल भी जमशेदपुर में ही है। उसके ससुराल वालों ने यह जानकारी दी है कि वह अपने ससुराल से पत्न्ी के गहने यह कहकर ले आया था कि उसे जमीन खरीदना है। बाद में खोजबीन करने पर पता चला कि वह गहने लेकर वह फरार हो गया।

Recent Posts

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
%d bloggers like this: