अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

60 वर्ष की उम्र होने पर अतिरिक्त कैल्सियम और विटामिन डी लेंःडॉ. विनीत

धनबाद:- हड्डी एवं जोड़ दिवस के अवसर पर एशियन जालान अस्पताल में ऑर्थोपेडिक सर्जन डॉ. विनीत अग्रवाल ने बताया है कि महिलाएं 50 वर्ष से अधिक और पुरुष 60 वर्ष से अधिक उम्र होने पर कैल्सियम और विटामिन डी का अतिरिक्त पूरक आहार लेना शुरू कर दें। क्योंकि उम्र के साथ हड्डियां कमजोर हो जाती हैं और जोड़ भी घीसने लगता है। ऐसे में पूरक आहार परेशानियों को कम करेगा। पूरक आहार में इनकी गोलियां भी हो सकती हैं। उम्र ढलने पर कैल्सियम, विटामिन डी और बोन मिनरल डेनसिटी की हर वर्ष जांच कराएं। फिर उसके अनुसार जीवनचर्या रखें। आहार में पनीर, दूध, मांस, मछली आदि शामिल करने से हड्डियां मजबूत होती हैं। डॉ. विनीत के अनुसार इस वर्ष हड्डी एवं जोड़ दिवस का थीम है, ‘‘सेव सेल्फ, सेव वन‘‘। इसलिए आर्थोपेडिक इंज्युरी से बचने के लिए हमें ट्रैफिक नियमों का पालन करना चाहिए। दो पहिया चालक हेलमेट पहने तथा कार चालक सीट बेल्ट अवश्य बांधे। राह चलते कोई दुर्घटना दिखे तो पुलिस को जरूर कॉल करें।

जोड़ प्रत्यारोपण लगभग सफल
एशियन जालान अस्पताल में ऑर्थोपेडिक सर्जन डॉ. विनीत अग्रवाल के अनुसार अगर दर्द इतना होता है कि थोड़ी दूर चलना पड़े तो डर लगता हो, रोज दर्द निवारक गोलियां खानी पड़े, पैर ज्यादा टेड़ा होने लगे आदि। पैर टेड़ा होने से हड्डी का क्षरण होता है। ऐसे में सर्जरी करा लेनी चाहिए। घुटना या कूल्हा प्रत्यारोपण लगभग सफल है। इसलिए यदि समस्या है और डॉक्टर घुटना या कूल्हा का रिप्लेसमेंट करने के लिए कह रहे हैं तो कराना चाहिए। ऑपरेशन के अगले दिन से ही मरीज पूरा वजन डाल कर चलने लगता है।

उम्र बढ़ने पर ये न करेंः पालथी मारकर बैठना, चुक्कुमुक्कु बैठना।

ये करेंः नियमित व्यायाम करें, पौष्टिक आहार लें और कैल्सियम और विटामिन डी का अतिरिक्त आहार लें। कोई आउट्डोर गेम जरूर खेलें। प्रतिदिन थोड़े समय धूप में जरूर बैठें।

सर्जरी के अलावा यह भी उपायः जोड़ का जांच कर देखा जाता है कि दर्द किस ओर है। अमूमन अंदर में ज्यादा दर्द होता है। जांच में गैप भी देखा जाता है। साइनोवियल फ्ल्यूड हड्डी को घीसने से बचाता है। उम्र बढ़ने पर यह कम हो जाता है। ऐसे में व्यायाम करने की सलाह दी जाती है। साथ में साइनोवियल फ्लूइड् बढ़ाने की दवा दी जाती है। मांसपेशी को मजबूत करने की दवा दी जाती है ताकि हड्डी पर कम भार पड़े।

%d bloggers like this: