March 9, 2021

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

सिडनी टेस्ट : जडेजा बोले- फ्रेक्चर के बावजूद खेलने के लिए तैयार था, इंजेक्शन भी ले लिया था

नई दिल्ली:- भारत के स्टार आल राउंडर रविंद्र जडेजा ने शनिवार को कहा कि अंगूठे में फ्रेक्चर के बावजूद वह सिडनी में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ ड्रा हुए तीसरे टेस्ट के दौरान 10-15 ओवर बल्लेबाजी करने के लिए मानसिक रूप से तैयार थे और उन्होंने इसके लिए दर्दनिवारक इंजेक्शन भी ले लिया था।
जडेजा को सिडनी टेस्ट की पहली पारी में बल्लेबाजी करते हुए अंगूठे में चोट लग गई थी जिसके बाद वह 6 हफ्ते के लिए क्रिकेट से बाहर हो गए। इससे वह पांच फरवरी से इंग्लैंड के खिलाफ शुरू हो रही चार टेस्ट मैचों की श्रृंखला में नहीं खेल पाएंगे। उन्होंने कहा, ‘मैं तैयार था, पैड पहन लिए थे। इंजेक्शन भी ले लिया था। मैं सोच रहा था कि मैं कम से कम 10 से 15 ओवर तक बल्लेबाजी करूंगा और मानसिक रूप से योजना बना रहा था कि पारी कैसे खेलूंगा, कौन से शॉट खेलूंगा क्योंकि फ्रेक्चर से दर्द के कारण मेरे लिए सभी तरह के शॉट खेलना संभव नहीं था।’ जडेजा ने कहा, ‘मैं भी हिसाब लगा रहा था कि तेज गेंदबाजों की गेंदों का सामना कैसे करूंगा, वे मुझे गेंद कहां पिच करेंगे। मैं अपनी भूमिका की योजना बना रहा था कि मैं जब 10-15 ओवर बल्लेबाजी करूंगा तो ऐसा करूंगा।’ लेकिन जडेजा को बल्लेबाजी के लिए उतरने की जरूरत हीं नहीं पड़ी क्योंकि रविचंद्रन अश्विन और हनुमा विहारी ने पांचवें दिन 256 गेंद का डटकर सामना किया और यादगार ड्रा कराया। भारतीय ऑलराउंडर ने कहा, ‘यहां तक कि मैंने टीम प्रबंधन से भी बात की थी कि मैं सिर्फ तभी बल्लेबाजी करूंगा, अगर भारत उस दहलीज पर पहुंच जाता है, जहां मैच जीता जा सकता है। पुजारा और ऋषभ पंत अच्छी बल्लेबाजी कर रहे थे, उन्होंने साझेदारी बनाई। हमें यह भी महसूस हुआ कि हम मैच जीत सकते थे।’ उन्होंने कहा, ‘लेकिन दुर्भाग्य से, पंत आउट हो गया और इसके बाद हालात बदल गए। हमें इसके बाद ड्रा के खेलना पड़ा।’ जडेजा ने कहा, ‘अश्विन और विहारी ने जिस तरह से मैच को बचाने के लिये बल्लेबाजी की, उन्होंने बेहतरीन जज्बा दिखाया। जब टेस्ट क्रिकेट की बात आती है तो हमेशा रन बनाना अहम नहीं होता। ऐसे भी हालात होते हैं जब आपको मैच बचाना होता है। इतने सारे ओवर बल्लेबाजी करके जिस तरह से हमने मैच बचाया, यह टीम का शानदार प्रयास था।’

Recent Posts

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
%d bloggers like this: