अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

मोरहाबादी के टैगोर हिल में हुआ आदिवासी जनजातियां अखड़ा के11 प्रतिमाओं का अनावरण


रांची:- झारखंड आदिवासी विकास समिति के तत्वावधान में एवं कला मंदिर होटवार रांची एवं सांस्कृतिक कार्य निदेशालय विभाग झारखंड
सरकार के सौजन्य से मोरहाबादी टैगोर हिल स्थित ओपन स्पेसथिएटर में आदिवासी जनजातियां अखड़ा को प्रतिबिंबित करते हुए 11 प्रतिमाओं का अनावरण पदम श्री डॉ रामदयाल मुंडा जी के सुपुत्र गुंजल इकिर मुंडा एवं मीनाक्षी मुंडा जी के द्वारा किया गया। मुंडा जी की स्मृति में स्मारिका गोमके का विमोचन प्रख्यात साहित्यकार गीतकार एवं गायक महावीर नायक जी के द्वारा किया गया। झारखंड आदिवासी विकास समिति सम्मान समारोह 2021 का आयोजन भी किया गया। जिसमें राज्य के विभिन्न जिलों से ऐसी प्रतिभाओं को सम्मानित किया गया। जिन्होंने अपनी प्रतिभा के बल पर विशेष पहचान बनाई है। अध्यक्ष प्रभाकर नाग ने बताया कि पद्म श्री डॉ रामदयाल मुंडा जी का सपना ओपन स्पेस थिएटर में मुंडा जी की राज्य की सबसे बड़ी ढोल बजाते हुए प्रतिमा लगाने का गौरव प्राप्त हुआ। साथ ही उनके सपनों और परिकल्पना के अनुरूप पारंपरिक अखड़ा को प्रतिबिंबित करते हुए 11 प्रतिमाओं का अनावरण निश्चित तौर पर सांस्कृतिक बौद्धिक आंदोलन को आगे बढ़ाएगा। कार्यक्रम में महावीर नायक जी ने मुंडा जी के व्यक्तित्व के विभिन्न पहलुओं के बारे में बताया। सम्मान समारोह कार्यक्रम में भाषा साहित्य के क्षेत्र में मुंडारी में किताब लिखने वाले कुशलमय नाग, साहित्यकार लेखक सिकरा दास तिर्की, लेखिका शकुंतला मिश्रा, जनजातीय क्षेत्रीय भाषा विभाग के एचओडी प्रोफेसर हरि उरांव, किशोर सूरीन, क्षितिज कुमार राय, टीआरआई पूर्व निदेशक सोमा मुंडा को सम्मानित किया गया। सामाजिक सेवा में श्रेष्ठ काम करने वाले लहू बोलेगा के नदीम खान, सर्वधर्म सद्भावना समिति के मुख्तार अहमद, चाईबासा के युवा आदिवासी समाजसेवी माधव चंद्र कूंकूल, महावीर टोप्पो, कुंदरसी मुंडा, पवन तिर्की, सुरेंद्र लिंडा, जोनहा के मुखिया कृष्णा मुंडा, जगन लिंडा, एलेन कूजूर, खूंटी की दूर्गावती ओड़ेया, सुषमा बिरूल, प्रख्यात सामाजिक कार्यकर्त्ता जेम्स हेरेंज, पोरेश बिरूवा, प्रतीक कच्छप, मार्स मैनुअल बोड्रा, जसवंत सांगा को सम्मानित किया गया। सामाजिक सेवा करने वाले विकास सावंत एवं डेमका सोय को विशेष रुप से सम्मानित किया गया। शिक्षा के क्षेत्र में उल्लेखनीय भूमिका निभाने वाले लाइब्रेरीमेन संजय कच्छप, एवं कोल्हन की युवा आदिवासी शिक्षिका दमयंती सिंकू एवं जे सी वर्मा को सम्मानित किया गया। मूर्तिकार अनूज कंडूलनाएवं मूर्तिकार जगदेव मुंडा को सम्मानित किया गया। आदिवासी व्यापार के क्षेत्र में मनोनीत रिबेका टोपनो, आदिवासी परिधान की बिक्री करने वाले अंजलि शीतल केरकेट्टा एवं मशहूर आदिवासी परिधानों के कांसेप्ट डिजाइनर कोरियोग्राफर सुमंगल नाग जी को सम्मानित किया गया। ट्राइबल मैट्रिमोनी चलाने वाले विवेकानंद उरांव, रविकांत तिर्की एवं पूरी टीम को सम्मानित किया गया। जिसमें टीम मेंबर आंध्र प्रदेश मध्य प्रदेश छत्तीसगढ़ से उपस्थित हुए थे। ट्राईबल मेट्रोमोनी कार्यक्रम की कोई स्पॉन्सर थी। फिल्म के क्षेत्र में एनएसडी से प्रशिक्षण प्राप्त काजल मुंडू, अनूराग लूगून, रवि लकड़ा, विजय प्रभाकर को सम्मानित किया गया। उभरते हुए कलाकाररविकांत भगत केशव केसरिया को भी सम्मानित किया गया। कोल्हान क्षेत्र में 65 बार रक्तदान का रिकॉर्ड बनाने वाले राजेश मारडी जी को भी सम्मानित किया गया। मीडिया के क्षेत्र में सुनीता मुंडा, रामचंद्र केरकेट्टा को सम्मानित किया गया। झारखंड पुलिस मेंस एसोसिएशन के उपाध्यक्ष देवचंद मुंडा को सम्मानित किया गया। कार्यक्रम में पारंपरिक पूजा स्थानीय वाहन बिरसा पाहन द्वारा की गई एवं कार्यक्रम के अंत में फिल्म बांधा खेत एवं पदम श्री डॉ रामदयाल मुंडा सृष्टि कथा एनिमेशन फिल्म भी दिखाई गई। सांस्कृतिक लोक कलाकार सूखराम पाहन की टीम ने रंगारंग कार्यक्रम प्रस्तुत किया। पद्म श्री मुकुंद नायक, महावीर नायक एवं क्षितिज राय की जुगलबंदी ने कार्यक्रम में समा बांध दिया। मंच संचालन प्रभाकर नाग ने किया। कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए झारखंड आदिवासी विकास समिति के कार्यकारी अध्यक्ष जगन लिंडा, कार्यकारी जिला अध्यक्ष कृष्णा मुंडा, बिरसा टोप्पो, अमित मुंडा सहित अन्य पदाधिकारीयों का विशेष योगदान था। वरिष्ठ अधिवक्ता रश्मि कात्यान सपत्नीक उपस्थित हुए।

%d bloggers like this: