अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

किसान विरोधी  कानून के विरोध में राज्य स्तरीय किसान कन्वेंशन 12 को रांची में


रांची:- अखिल भारतीय किसान संघर्ष समन्वय समिति झारखंड राज्य के संयोजक सह अखिल भारतीय किसान सभा के महासचिव महेंद्र पाठक। अखिल भारतीय किसान महासभा के सचिव पूरन महतो, ए आई के एस के प्रदेश सचिव सुजीत सिन्हा , किसान संग्राम समिति के सचिव राजेंद्र गोप ने प्रेस बयान जारी कर कहा है कि केंद्र सरकार के द्वारा बनाए गए किसान विरोधी तीनों काला कानून के विरोध में दिल्ली के बॉर्डर पर लाखों किसान 9 महीने से बैठे हुए हैं, लेकिन सरकार किसी की नहीं सुन रही है, किसान आंदोलन को बदनाम एवं हटाने के लिए हर हथकंडे को अपना रही है, 600 से अधिक किसान शहीद हो चुके हैं ,सारे सरकारी तंत्र को इस्तेमाल किया ,बावजूद किसान आंदोलन में डटे हुए हैं। जब तक किसान विरोधी कानून की वापसी नहीं होगी आंदोलनकारियों की घर वापसी नहीं होगी ,दिल्ली के आंदोलन के समर्थन में झारखंड राज्य में भी लगातार आंदोलन चलता रहा है। इसलिए 27 सितंबर को भारत बंद को सफल बनाने के लिए 12 सितंबर 2021 को रांची के एसडीसी सभागार में राज्य स्तरीय किसान कन्वेंशन का आयोजन किया गया है। उक्त कन्वेंशन में अखिल भारतीय किसान सभा के प्रदेश अध्यक्ष सह  हजारीबाग के पूर्व सांसद भुवनेश्वर प्रसाद मेहता, कार्यकारी अध्यक्ष के डी सिँह , अखिल भारतीय किसान महासभा के महासचिव राजारामज सिह ,ए आई के एस के राष्ट्रीय कोषाध्यक्ष कृष्णा प्रसाद, महिला आयोग के पूर्व सदस्या वासबी किडो ,सामाजिक कार्यकर्ता दयामणि बरला , सिटु के प्रदेश अध्यक्ष मिथिलेश सिंह ,महासचिव प्रकाश विप्लव, एक्टू के महासचिव शुभेंदु सेन, यूनाइटेड कॉल वर्कर्स यूनियन के महासचिव लखन लाल महतो, एटक के उप महासचिव अशोक यादव , बोकारो इस्पात कामगार यूनियन के महासचिव पी के पांडे ,ऑल इंडिया यूथ फेडरेशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष आफताब आलम खान ,करणपुरा बचाओ आंदोलन के नेता मिथिलेश दांगी सहित राष्ट्रीय एवं राज्य स्तर के कई अतिथि एवं वक्ता किसान कन्वेंशन में भाग लेंगे, उक्त कन्वेंशन में 27 सितंबर को भारत बंद को सफल बनाने एवं झारखंड में किसान आंदोलन को आगे बढ़ाने के लिए राज्य से लेकर प्रखंड स्तर तक के कार्यक्रम बनाए जाएंगे ।

%d bloggers like this: