June 21, 2021

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

रांची के प्रथम मेयर के निधन पर प्रदेश कांग्रेस नेताओं ने जताया शोक

रांची:- राजधानी रांची के प्रथम मेयर एवं प्रतिष्ठित व्यवसायी 96 वर्षीय कांग्रेस नेता शिव नारायण जायसवाल का देर रात 11.30 बजे निधन हो गया,उनका जन्म सन 1926 ईस्वी में हुआ था, भारत की आजादी की लड़ाई में भी शिवनारायण अग्रवाल का भी बहुत बड़ा योगदान रहा है. वह हमेशा कांग्रेस पार्टी के साथ जुड़कर देश की सेवा में लगे रहे थे।
उनके निधन का समाचार सुनकर कृषि मंत्री बादल पत्रलेख,प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता आलोक कुमार दूबे,लाल किशोर नाथ शाहदेव, डा राजेश गुप्ता छोटू कोकर स्थित उनके आवास पर पहुंचे एवं श्रद्धासुमन अर्पित किया एवं परिजनों को ढ़ांढ़स बंधाया।
प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष डॉ रामेश्वर उराँव ने राजधानी के पहले महापौर शिव नारायण जायसवाल के निधन पर गहरी संवेदना एवं दुख प्रकट करते हुए कहा कि रांची के पहले महापौर के रूप में उन्होंने राजधानी में कई महत्वपूर्ण काम किया,कांग्रेस के कद्दावर नेता के रूप में हमेशा विचारधारा के प्रतीक माने जाते थे उनके निधन से राज्य ने एक मजबूत और महत्वपूर्ण नेता खो दिया है।
कृषि मंत्री बादल पत्रलेख ने कहा उत्तर प्रदेश के जमालपुर में जन्मे शिव नारायण जायसवाल की पढ़ाई लिखाई बिशप स्कॉट से हुआ था,वे सीनियर कैंब्रिज हुए थे।शैक्षणिक योग्यता पर इतनी पकड़ थी कि उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, बिहार, उड़ीसा की कांग्रेस सरकार अपनी पॉलिसी के बारे में इनसे सलाह लेती थी।
कार्यकारी अध्यक्ष केशव महतो कमलेश ने कहा शिवरायण जायसवाल की सोच काफी दूरदर्शिता थी, झारखंड को इंडस्ट्रियल हब बनाना इनका सपना था।
आलोक कुमार दूबे ने कहा बेहतर शिक्षा लोगों को मिले इसके लिए स्कूल-कॉलेज बनाएं तथा लोगों की स्वास्थ्य को देखते हुए अस्पताल भी बनाएं।
लाल किशोर नाथ शाहदेव ने कहा शिव नारायण जसवाल अपने दोनों हाथों से सामाजिक, धार्मिक, राजनीतिक कार्यक्रमों में सहयोग एवं दान देते थे। रांची कोकर डिस्टलरी स्थित भगवान बिरसा मुंडा समाधि का जमीन इन्होंने ही दान दिया है।
डा राजेश गुप्ता छोटू ने कहा रांची सहित पूरे झारखंड में अनेकों सामाजिक कार्य किए, इनके कुशल व्यक्तित्व एवं कार्यो के कारण लोग युगों युगों तक स्मरणीय रखेंगे।
इसके पूर्व प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में स्वर्गीय शिव नारायण जायसवाल के निधन पर कांग्रेस जनों ने शोक सभा आयोजित कर इन्हें भावपूर्ण श्रद्धांजलि दी, एवं 2 मिनट का मौन रखकर उनकी आत्मा की शांति के लिए ईश्वर से प्रार्थना किया एवं परिजनों एवं शुभचिंतकों को दुख सहने की शक्ति देने की भी ईश्वर से प्रार्थना की. इसके अलावे दीपक प्रसाद, योगेन्द्र सिंह बेनी, राहुल राय, अमरजीत सिंह, गौरव, कृष्णा सहाय, प्रेम, अनिल सिंह रामानंद केशरी, दामोदर प्रसाद आदि ने भी शोक व्यक्त किया है।
इस मौके पर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के वैक्सीनेशन समिति के चेयरमैन बादल पत्रलेख,कार्यकारी अध्यक्ष केशव महतो कमलेश, झारखंड प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता आलोक कुमार दूबे,लाल किशोर नाथ शाहदेव,डा राजेश गुप्ता छोटू ,राजेश सिन्हा सन्नी,वेद प्रकाश तिवारी ने श्रद्धांजलि अर्पित की एवं उनके व्यक्तित्व पर प्रकाश डालते हुए कांग्रेसी नेताओं ने कहा शिव नारायण जसवाल 1940 ईस्वी में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी रामगढ़ कांग्रेस अधिवेशन के दौरान उनके कोकर स्थित आवास पर आए और उनके साथ खाना-पीना करके उन्हीं के फोर्ड गाड़ी में सवार होकर रामगढ़ कांग्रेस अधिवेशन कार्यक्रम में शामिल हुए थे। देश के प्रति बहुत इन्हें प्रेम था इनका लगाव सबों के साथ अच्छा था, अंग्रेजों ने भी खुश होकर शिव नारायण जयसवाल को राजा की उपाधि दी।
शिवनारायण जयसवाल राजधानी रांची में कई महत्वपूर्ण कार्य मेयर के पद पर रखकर किए जिसमें पुराना नगर निगम भवन, चेंबर ऑफ कॉमर्स,रांची टाउन हॉल, पहला पैड शौचालय,जयपाल सिंह स्टेडियम,स्ट्रीट लाइट, रेन वाटर हार्वेस्टिंग की शुरुआत करने का काम किया।सन 1962 से 76 तक रांची के मेयर रहे तथा उस कार्यकाल के दौरान रांची में कई महत्वपूर्ण विकास के कार्य किए थे। अपने पीछे भरा पूरा परिवार छोड़ गये हैं,दुर्भाग्य वश शिवनारायण जायसवाल के एक पुत्र जो कि डिप्रेशन के शिकार थे उनका भी निधन हो गया जिससे उनका पूरा परिवार मर्माहत है।शिवनारायण जयसवाल के पौत्र प्रोफेशनल कांग्रेस के अध्यक्ष आदित्य विक्रम जायसवाल अपने परिवार को सांत्वना देकर उन्हें संबल प्रदान कर रहे हैं।

Recent Posts

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
%d bloggers like this: