अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

कन्हैया कुमार के कांग्रेस में शामिल होने की अटकलें तेज


पटना:- कन्हैया को कांग्रेस में लाने की जिम्मेदारी जौनपुर सदर के पूर्व विधायक मो. नदीम जावेद को सौंपी गई है, जो कि एनएसयूआई के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष, भारतीय युवा कांग्रेस के पूर्व महासचिव, कांग्रेस अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष और मीडिया पैनलिस्ट हैं। बताया जा रहा है कि जब कन्हैया कुमार ने सीपीआई मुख्यालय में अपना दफ्तर खाकन्हैया कुमार 2024 में बिहार कांग्रेस के बड़े चेहरे के रूप सामने आ सकते हैं। दरअसल, खबर है कि कन्हैया कुमार प्रशांत किशोर की मौजूदगी में दो बार राहुल गांधी से मुलाकात कर चुके हैं, जिसके बाद उनके कांग्रेस में शामिल होने की अटकलें लगनी शुरू हो गई हैं।
ली किया, तब से उनके पाला बदलने की चर्चा हो रही है। इससे पहले कन्हैया ने नीतीश कुमार से भी मुलाकात की थी, जिसके बाद उनके जदयू में शामिल होने की अटकलें लगने लगी थीं।
कन्हैया कुमार 2015 में जेएनयू (जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय) छात्रसंघ के अध्यक्ष पद के लिए चुने गए थे। जेएनयू में लगे देश विरोधी नारों के बाद कन्हैया का नाम सभी की जुबान पर आ गया। विश्व के सबसे बड़े छात्र संगठन अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने कन्हैया कुमार का विरोध किया था। उनके ऊपर देशद्रोह का मुकादमा भी चला। वहीं 17 वीं लोकसभा चुनाव में भाजपा के फायर ब्रांड नेता गिरिराज सिंह ने चार लाख 22 हजार मतों के बड़े अंतर से कन्हैया कुमार को हराया था। उसके बाद से पार्टी में उनकी अहमियत कम हो गई।

%d bloggers like this: