March 6, 2021

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

विभागों की समीक्षा बैठक में शिक्षा की प्रगति पर विशेष बल

किशनगंज:- जिले में विभिन्न विभागों की समीक्षा बैठक में शिक्षा की प्रगति पर विशेष ध्यान देते हुए जिलाधिकारी डाॅ आदित्य प्रकाश ने जिला शिक्षा पदाधिकारी सुभाष गुप्ता को शिक्षा क्षेत्र में आशातीत प्रगति लाने पर बल दिया। उन्होंने कहा कि कोविड-19 काल में बाधित शिक्षा व्यवस्था में प्रगति लाने की आवश्यकता है। सभी प्रखंड स्तरीय शिक्षा व्यवस्था की समीक्षा कर प्रतिवेदन प्रस्तुत करेंगे।
बता दें कि शनिवार को समाहरणालय में विभिन्न विभाग की समीक्षा बैठक जिलापदाधिकारी डाॅ प्रकाश की अध्यक्षता संपन्न हुई। इस समीक्षा बैठक में शिक्षा विभाग के कार्यो, उपलब्धि व आगामी कार्य योजना पर प्रस्तुति पॉवर प्वाइंट के माध्यम से जिला शिक्षा पदाधिकारी ने दी। पिछली बैठक में दिए गए निर्देश का अनुपालन, सेवांत लाभ, स्थापना, निर्माण कार्य, शिक्षक नियोजन, आदर्श विद्यालय की स्थापना, एमडीएम के तहत खाद्यान्न उठाव,वितरण, विद्यालय हेतु भू-अर्जन, रेन वाटर हार्वेस्टिंग, बाला उन्नयन कक्षा के बिन्दु पर गहन समीक्षा हुई।
रेन वाटर हार्वेस्टिंग के अंतर्गत 109 लक्ष्य के विरुद्ध 109 विद्यालयों में छत वर्षा जल संचयन निर्माण पूर्ण करने की सूचना जिला शिक्षा पदाधिकारी ने दी। 29 भूमिहीन विद्यालयों के भवन निर्माण के निमित्त भू-अर्जन हेतु संबंधित अंचल अधिकारी से समन्वय कर कार्य में प्रगति लाने का निर्देश दिया गया।
जल जीवन हरियाली अभियान के अंतर्गत लक्ष्य के विरुद्ध छत वर्षा संचयन में लक्ष्य के अनुरूप उपलब्धि की जानकारी जिला शिक्षा पदाधिकारी ने दी तथा बताया की कोविड के मद्देनजर वर्ग 9-10 की कक्षाओं को छोड़कर सभी विद्यालय में पठन-पाठन कार्य प्रायः बंद है। विद्यालय में पठन पाठन कार्य प्रारम्भ होने पर रेमेडियल कक्षा,कस्तूरबा गांधी विद्यालय में कक्षा संचालन,बाला योजना का संचालन,उन्नयन स्मार्ट कक्षा संचालन प्रारम्भ कर दिया जाएगा।
बाला से 100 विद्यालयों को आच्छादित करने के अंतर्गत 82 विद्यालयों में कार्य पूर्ण कर लिए गए है।शेष 18 विद्यालय में बाला योजना हेतु शीघ्र कार्रवाई का निर्देश डीएम ने दिया।
एमडीएम के अंतर्गत खाद्यान्न उठाव में प्रखण्ड साधन सेवी के स्तर से शिथिलता परिलक्षित होने पर जिलाधिकारी ने खाद्यान्न उठाव व वितरण में लापरवाही बरतने वाले कर्मियों को चिन्हित कर स्पष्टीकरण मांगने का निर्देश जिला शिक्षा पदाधिकारी को दिया गया। दिसम्बर माह का चावल का शत प्रतिशत उठाव एक सप्ताह के अंदर तथा जनवरी माह के चावल का शत प्रतिशत उठाव 15 फरवरी तक कर लेने का निर्देश जिलाधिकारी ने दिया।
प्रत्येक प्रखण्ड में पांच-पांच मॉडल विद्यालय की स्थापना के बिन्दु पर अलग से बैठक कर चिन्हित सभी विद्यालयों के हेड मास्टर की उपस्थिति में जिलाधिकारी ने निर्देश दिया।
विदित हो कि पिछली बैठक में डीएम ने प्रत्येक प्रखण्ड में 5-5 आदर्श विद्यालय की स्थापना का निर्देश दिया था तथा 5-5 विद्यालय चिन्हित कर विद्यालयों में मूलभूल सुविधा मुहैया कराते हुए 15 जनवरी तक पूर्ण करने का निर्देश दिया गया था। तदालोक में जिले के सभी प्रखंडों के चिन्हित आदर्श विद्यालय के प्रधानाध्यापक ने कृत कार्रवाई से अवगत कराया।
पॉवर प्वाइंट प्रस्तुति के माध्यम से विद्यालय की व्यवस्था यथा लाइब्रेरी,शौचालय,क्लास रूम, बागवानी एवं अन्य अतिरिक्त सौंदर्यीकरण को डीएम ने देखा। जिलाधिकारी मॉडल विद्यालय की तैयारियों से संतुष्ट दिखे तथा कहा कि शिक्षा के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य कर जिला में शैक्षणिक वातावरण बनाएं। बच्चों को विद्यालय में शैक्षणिक माहौल मिलने से प्रतिभा निखरेगी। इस पायलट प्रोजेक्ट का विस्तार अन्य विद्यालयों में भी किया जायगा।
कई विद्यालय व डाइट केंद्र में अवैध निर्माण की गतिविधि पर जिलाधिकारी ने गंभीरता से लेते हुए सभी पदाधिकारियों को निर्देशित किया कि सूचना प्राप्त होते ही दोषी व्यक्ति पर प्राथमिकी दर्ज कराकर कार्रवाई सुनिश्चित करें।
बैठक में जिला शिक्षा पदाधिकारी,सभी डीपीओ,सभी प्रखंड शिक्षा प्रसार पदाधिकारी, प्रधानाध्यापक व कर्मी उपस्थित थे।
समीक्षा के क्रम में डीएम ने सेवांत लाभ शिक्षा विभाग की आशातीत प्रगति पर जिला शिक्षा पदाधिकारी सुभाष गुप्ता समेत उपस्थित अन्य पदाधिकारियों के कार्यों की काफी सराहना की।

संवाददाता सुबोध

Recent Posts

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
%d bloggers like this: