नयी दिल्ली:- भाजपा के वरिष्ठ नेता एवं केंद्रीय अल्पसंख्यक कार्य मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने शुक्रवार को यहाँ कहा कि देश की संस्कृति, प्रतिबद्धता और संविधान की ‘क्रिमिनल लिंचिंग’ की प्रतिस्पर्धा चल रही है।
श्री नकवी ने आज यहाँ पत्रकारों से कहा कि देश को ऐसा महसूस हो रहा है कि कुछ लोग भारत के संस्कार, संकल्प, संस्कृति, संविधान की “सांप्रदायिक लिंचिंग” की सुपारी लेकर काम कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि भारत के खिलाफ दुष्प्रचार सिंडिकेट की “मोदी बैशिंग सनक” दरअसल “भारत बैशिंग साजिश” बनती जा रही है।
श्री नकवी ने कहा कि मोदी सरकार के समावेशी विकास, सर्वस्पर्शी सशक्तीकरण के सफल परिणामों से परेशान कुछ लोग अल्पसंख्यकों को लेकर दुनिया के सामने तथ्यों-तर्कों और जमीनी हकीकत के विपरीत ‘झूठ के झाड़ से सच के पहाड़’ को परास्त करने का ‘पाखंडी प्रयास’ कर रहे हैं।
केंद्रीय मंत्री ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी की सरकारों ने ‘तुष्टीकरण के छल’ को ‘समावेशी सशक्तीकरण के बल’ से ध्वस्त किया है। जिसका परिणाम है कि आज समाज के सभी वर्ग सामाजिक-आर्थिक-शैक्षिक सशक्तीकरण के बराबर के हिस्सेदार-भागीदार बन रहे हैं। कुछ लोग पाकिस्तान प्रायोजित संस्था के मंच से भारत की संस्कृति, संस्कार और समावेशी संकल्प पर भ्रम पैदा करने की भारत विरोधी साजिश का हिस्सा बन रहे हैं।
श्री नकवी ने कहा कि जो लोग ‘पाकिस्तान प्रायोजित प्रोपेगैंडा का पार्टनर’ बन रहे हैं वह हिन्दुस्तान की ‘एक भारत-श्रेष्ठ भारत’ की ताकत और पाकिस्तान के ‘जेहादी कठमुल्लावाद’ को जान बूझ कर नजरअंदाज कर भारत को बदनाम करने के स्वार्थी एजेंडे का हिस्सा बनते जा रहे हैं।

Leave a Reply

%d bloggers like this: