अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

बाल श्रम कराना समाजिक कलंक : आर के तिवारी

किशनगंज 14 जून:- बाल श्रम कराना समाजिक कलंक है। उक्त बातें सोमवार को अपने कार्यालय कक्ष में वर्ल्ड डे अगेंस्ट चाइल्ड लेबर बाल संरक्षण इकाई के सहायक निदेशक आर के तिवारी ने कहीं।उन्होने कहा कि यह परिवार, समाजिक संस्था और सरकार के सहयोग से ही खत्म किया जा सकता है। देश में बच्चों के कुछ मौलिक अधिकार है , जिन हाथों में कलम – किताब होनी चाहिए उन हाथों से मजदूरी कराना शर्मनाक कदम हैं और गंभीरता से इस प्रथा का अंत कराने में हम सभी सरकारी व गैर सरकारी- तंत्र को जबावदेही लेनी होगी। सभी जागरुक होकर इस कुप्रथा के विरूद्ध सहयोग देंगे तो निश्चित ही इस कुप्रथा का अंत होगा।
उल्लेखनीय है कि सरकार तो उन अधिकारों के संरक्षण के प्रति प्रतिबध्द हैं। बाल श्रम न हो इसके लिए नियमित चाइल्ड लाइन के माध्यम से भी जागरूकता कार्यक्रम चलाए जा रहे हैं टोल फ्री 27X7 काम करने वाला नं. 1098 को जिला स्तर से पंचायत स्तर तक प्रचारित प्रसारित किया जा रहा है और बाल संरक्षण समिति के गठन किया जा चुका है। वार्ड स्तर पर गठन की प्रक्रिया चल रही है ।श्रम विभाग के नेतृत्व में धावा दल भी कार्य कर रहा है ,थाना स्तर पर बाल कल्याण पुलिस पदाधिकारी भी इसमें सहयोग कर रहे है।

संवाददाता :सुबोध

%d bloggers like this: