January 27, 2021

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

सेप्टिक टैंक साफ करने के दौरान दम घुटने से छह की मौत

देवघर:- झारखंड के देवघर जिले के देवीपुर में रविवार सुबह सेप्टिक टैंक साफ करने के दौरान दम घुटने से छह लोगों की मौत हो गयी। हादसे की सूचना मिलने पर जिले के उपायुक्त भी मौके पर पहुंचे और बचाव और राहत कार्य का जायजा लिया, लेकिन कुछ ही मिनटों के दौरान हुई इस घटना में छह लोगों की जान चली गयी।
उपायुक्त कमलेश्वर प्रसाद सिंह ने बताया कि घटना की जानकारी मिलते ही मौके पर पहुंचे,ताकि हादसे के शिकार लोगोंको तुरंत चिकित्सीय सहायता उपलब्ध करा बचाया जा सके, लेकिन यह सब कुछ इतना जल्दी हुआ कि या तो अस्पताल ले जाने के क्रम में अथवा अस्पताल पहुंचने के क्रम में छह लोगों की मौत हो गयी। उन्होंने बताया कि एनडीआरएफ की टीम बाढ़और अन्य प्राकृतिक आपदा में राहत पहुंचाने का काम करती है, लेकिन यह सब कुछ इतना जल्दी हुआ कि तुरंत मदद पहुंचाने के पहले ही लोगों की मौत हो गयी।
घटना के संबंध में मिली जानकारी के अनुसार एक नवनिर्मित घर मेंसेप्टिक टैंक साफ करने केलिए एक व्यक्ति अंदर उतरा, लेकिन उसकी ओर से कोई हलचल नहीं होने पर एक-एक कर उतरे अन्य पांच लोग भी जहरीली गैस की चपेट में आ गये और बाद में उनसभी को बाहर निकाल कर अस्पताल ले जाया गया,जहां चिकित्सकों ने उनसभी को मृत घोषित कर दिया।
घटना में मरने वालों में देवीपुर थाना क्षेत्र के कोल्हड़िया गांव निवासी 48 वर्षीय गोविंद मांझी और उनके दो बेटे 26 वर्षीय बबलू मांझी व 24 वर्षीय लालू मांझी शामिल हैं। जबकि मकान मालिक 48 ब्रजेश चंद बरनवाल और उनका भाई 42 वर्षीय मिथलेश चंद बरनवाल सहित पिरहाकट्टा निवासी 27 वर्षीय लीलू मुर्मू की भी इस घटना में मौत हो गयी है। बताया गया है कि देवीपुर में रहने वाले राजेश वर्णवाल के घर पर सेप्टिक टैंक की सफाई का काम हो रहा था। इसी दौरान टंकी साफ करने के दौरान एक व्यक्ति बेहोश हो गया, जिसे बचाने के लिए एक-एक करके टंकी में 6 लोग उतरे और सभी टंकी के अंदर बेहोश हो गये। जिसके बाद आनन-फानन में सभी लोगों को टंकी से बाहर निकाला गया। सभी को सदर अस्पताल ले जाया गया, जहां पर डॉक्टरों ने सभी को मृत घोषित कर दिया। घटना के बाद मृतक के परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल है।

Recent Posts

%d bloggers like this: