अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

एक ही नोट्स से 2 बहनों ने की यूपीएससी की तैयारी, बड़ी को ऐसे मिली तीसरी तो छोटी ने हासिल की 21वीं रैंक


नई दिल्ली:- संघ लोक सेवा आयोग ने पिछले महीने सिविल सेवा एग्जाम 2020 के नतीजे घोषित किए थे, जिसमें बिहार के शुभम कुमार टॉपर रहे. वहीं दिल्ली की रहने वाली अंकिता जैन ने तीसरा स्थान हासिल किया, जबकि उनकी छोटी बहन वैशाली जैन को 21वीं रैंक मिली. इसके साथ ही दोनों ने आईएएस अफसर बनने का सपना पूरा किया.
एक ही नोट्स से दोनों बहनों ने की तैयारी
खास बात है कि अंकिता जैन र उनकी छोटी बहन वैशाली जैन ने एक ही नोट्स से यूपीएससी एग्जाम की तैयारी की. दोनों ने अपनी जर्नी के दौरान एक-दूसरे को प्रेरित करने में मदद की. हालांकि इसके बावजूद बड़ी बहन अंकिता को तीसरी रैंक मिली, जबकि छोटी बहन वैशाली ने 21वीं रैंक हासिल की.
चौथे प्रयास में आईएएस बनीं अंकिता
अंकिता जैन ने 12वीं के बाद दिल्ली टेक्नोलॉजिकल यूनिवर्सिटी से कंप्यूटर साइंस में बीटेक की डिग्री हासिल की. इसके बाद उन्हें एक प्राइवेट कंपनी में नौकरी मिल गई, लेकिन कुछ समय बाद उन्होंने नौकरी छोड़ दी और यूपीएससी एग्जाम की तैयारी शुरू की. कड़ी मेहनत के बावजूद शुरुआती तीन प्रयासों में उन्हें आईएएस बनने में सफलता नहीं मिली. इसके बावजूद उन्होंने हार नहीं मानी और चौथे प्रयास में परीक्षा पास कर अपना सिविल सेवा का सपना पूरा कर लिया.
दूसरे प्रयास में बनी थीं आईआरएस अफसर
अंकिता जैन ने साल 2017 में यूपीएससी एग्जाम की तैयारी शुरू की थी और पहले प्रयास में उन्हें सफलता नहीं मिली, लेकिन दूसरे प्रयास में उन्होंने परीक्षा पास कर ली. हालांकि उनकी रैंक अच्छी नहीं आई और इस वजह से उनका चयन आईएएस के लिए नहीं हो पाया और उन्होंने इंडियन अकाउंट सर्विस ज्वाइन कर ली. इसके साथ ही वह यूपीएससी की तैयारी भी करती रहीं, लेकिन तीसरे प्रयास में वह परीक्षा पास नहीं कर पाईं. आखिरकार चौथे प्रयास में उन्होंने आईएएस बनने का सपना पूरा कर लिया.
छोटी बहन वैशाली ने हासिल की 21वीं रैंक
अंकिता जैन ने की छोटी बहन वैशाली जैन भी यूपीएससी एग्जाम पास करने में सफल रहीं और सिविल सेवा एग्जाम 2020 में 21वीं रैंक हासिल की. वैशाली फिलहाल रक्षा मंत्रालय के तहत आईईएस अधिकारी हैं और इसके साथ ही उन्होंने यूपीएससी एग्जाम की तैयारी की थी.

%d bloggers like this: