June 24, 2021

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

डर का सायाः मंडोली जेल में रातभर करवट बदलता रहा सुशील !

-मंडोली जेल में भी जान का खतरा

नई दिल्ली:- उत्तर पश्चिमी जिले के मॉडल टाउन स्थित छत्रसाल स्टेडियम में सागर की हत्या में के मामले में गिरफ्तार सुशील कुमार बुधवार देर रात कोर्ट के आदेश पर जेल भेजा गया। तिहाड़ जेल के डीजी संदीप गोयल के अनुसार, पुलिस टीम ने आदेश की कॉपी के साथ सुशील को मंडोली जेल छोड़ा। डीजी के अनुसार, उसे जेल संख्या 15 में फिलहाल रखा गया है। वहीं जेल सूत्रों ने बताया कि जेल में पहली रात को वह डर के मारे ठीक से सो नहीं पाया। सुरक्षा कर्मियों ने रात भर उसे करवट बदलते हुए देखा। इसी जेल में उसका दुश्मन लारेंस बिश्नोई भी बंद है।
जानकारी के अनुसार, सागर हत्याकांड के मुख्य आरोपित पहलवान सुशील और उसके साथी अजय को पुलिस ने बीते 23 मई को गिरफ्तार किया था। पूछताछ के लिए पुलिस ने उन्हें 10 दिन के रिमांड पर लिया था, जिसकी अवधि बुधवार को समाप्त हो गई। पुलिस ने दोनों को कोर्ट के समक्ष पेश कर एक बार फिर उसकी तीन दिन की रिमांड मांगी थी, लेकिन कोर्ट ने उनकी मांग को खारिज कर दिया। इसके बाद सुशील और अजय को पुलिस टीम मंडोली जेल में न्यायिक हिरासत में छोड़ आई।
डर के कारण रात भर नहीं सो सका सुशील
हत्या के मामले में गिरफ्तार पहलवान सुशील कुमार को मंडोली जेल संख्या 15 में फिलहाल रखा गया है, जहां उसे क्वारन्टीन किया गया है। इस अवधि के बाद यह तय किया जाएगा कि उसे किस जेल में भेजना है। सूत्रों का कहना है कि जेल संख्या 15 की बैरक में उसे रात को सोने के लिए जगह दी गई। काफी देर तक वह बैरक में ही टहलता रहा। इसके बाद वह सोने गया, लेकिन डर के कारण वह सो नहीं पा रहा था। रात भर उसे करवट बदलते हुए सुरक्षाकर्मियों ने देखा। जेल सूत्रों का कहना है कि अभी दो सप्ताह तक उसे मंडोली जेल में ही रखा जाएगा जहां सभी नए कैदियों को क्वारन्टीन किया जाता है।
लारेंस बिश्नोई भी इसी जेल में मौजूद
पुलिस सूत्रों की माने तो हाल ही में काला जठेड़ी-लारेंस बिश्नोई के खिलाफ स्पेशल सेल ने मकोका के तहत केस दर्ज किया है। इस मामले में फरार चल रहे काला जठेड़ी के साथी लारेंस बिश्नोई और उसके कुछ साथियों को स्पेशल सेल ने गिरफ्तार किया है। इस मामले में रिमांड अवधि खत्म होने पर उन्हें भी मंडोली जेल भेजा गया है। काला जठेड़ी के ममेरे भाई सोनू महाल को भी सुशील ने पीटा था। इसके चलते उसने काला जठेड़ी-लारेंस बिश्नोई गैंग से अपनी जान को खतरे की आशंका भी जताई थी। सूत्रों की मानें तो इसकी जानकारी जेल प्रशासन को भी दी गई है।

Recent Posts

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
%d bloggers like this: